अनुच्छेद 370 को लेकर लंदन में पाकिस्तानियों ने की पत्थरबाजी, दो गिरफ्तार

पाकिस्तानियों (Pakistan) ने लंदन में भारतीय उच्चायोग (Indian High Commission) के बाहर विरोध प्रदर्शन किया. पाकिस्तानी समूहों के नेतृत्व में एकत्र हुए हजारों प्रदर्शनकारी ने भारतीय उच्चायोग की बिल्डिंग को नुकसान पहुंचाया.

News18Hindi
Updated: September 4, 2019, 5:07 PM IST
अनुच्छेद 370 को लेकर लंदन में पाकिस्तानियों ने की पत्थरबाजी, दो गिरफ्तार
कश्मीर को लेकर पाकिस्तानियों ने की पत्थरबाजी, भारतीय उच्चायोग में तोड़फोड़
News18Hindi
Updated: September 4, 2019, 5:07 PM IST
लंदन: जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) से अनुच्छेद 370 (Article 370) हटाए जाने को लेकर पाकिस्तान (Pakistan) लगातार भारत के फैसले का विरोध कर रहा है. कश्मीर के विरोध में एक बार फिर पाकिस्तानियों ने लंदन में भारतीय उच्चायोग (Indian High Commission) के बाहर विरोध प्रदर्शन किया. पाकिस्तानी समूहों के नेतृत्व में एकत्र हुए हजारों प्रदर्शनकारी ने भारतीय उच्चायोग की बिल्डिंग को नुकसान पहुंचाया. हालांकि झड़प के बाद दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया.

स्काटलैंड यार्ड पुलिस (Police) ने कहा कि प्रदर्शन (Demonstrator) पर नजर रखने के लिए पर्याप्त संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है. पुलिस ने बताया कि ‘कश्मीर फ्रीडम मार्च’ मंगलवार को यहां पार्लियामेंट स्कावयर से शुरू हुआ और इंडिया हाउस की ओर बढ़ा. इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने भारत विरोधी नारे लगाए. उन्होंने भारत विरोधी तख्तियां भी ले रखी थीं.



‘प्रदर्शनकारियों के खिलाफ हो सख्त कार्रवाई’
Loading...

पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि आपराधिक नुकसान के लिए दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है. लंदन के मेयर सादिक खान ने झड़पों को अस्वीकार्य आचरण बताया और पुलिस से ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा है. उन्होंने कहा, ‘मैं इस अस्वीकार्य आचरण की निंदा करता हूं और कार्रवाई के लिए पुलिस से मांग करता हूं.’

कश्मीर मुद्दे को लेकर ऑनलाइन याचिका
ब्रिटेन की विपक्षी पार्टी लेबर पार्टी के बर्मिंघम से सांसद लियाम बाइर्न ने कश्मीर मुद्दे को लेकर ऑनलाइन याचिका शुरू की है और उन नेताओं में से एक हैं. जिन्होंने मंगलवार को हुए प्रदर्शन का समर्थन किया है.

भारत ने हाउस ऑफ कॉमन्स में उठाया मुद्दा
भारतीय मूल के सांसद शैलेश वारा ने हाउस ऑफ कॉमन्स में यह मुद्दा उठाया और विदेश मंत्री डोमिनिक राब से इस घटना की निंदा करने का आग्रह किया. ब्रिटेन के विदेश मंत्री राब ने कहा कि कोई भी हिंसा निंदनीय है. इस देश में या कहीं भी किसी समुदाय के खिलाफ हिंसा नहीं होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि हमें तनाव कम करने का प्रयास करना चाहिए.

ये भी पढ़ें-

डकैत की बंदूक से भी नहीं डरा ये शख्स, आराम से पीता रहा सिगरेट, देखें VIDEO

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 4, 2019, 4:39 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...