• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • डूरंड सीमा को लांघ अफगानिस्तान के अंदर पहुंची पाकिस्तानी सेना? तालिबानियों संग घूमते वीडियो हो रहा है वायरल

डूरंड सीमा को लांघ अफगानिस्तान के अंदर पहुंची पाकिस्तानी सेना? तालिबानियों संग घूमते वीडियो हो रहा है वायरल

पाकिस्तानी सेना तालिबान के नियंत्रण वाले अफगान इलाके में घुसे. (वीडियो ग्रैब)

पाकिस्तानी सेना तालिबान के नियंत्रण वाले अफगान इलाके में घुसे. (वीडियो ग्रैब)

Pakistan Troops in Afghan Soil: बीते 14 जुलाई को ताबिलान ने दावा किया था कि उसने अफगानिस्तान के महत्वपूर्ण ''स्पिन बोल्डक क्रॉसिंग'' पर कब्जा कर लिया है.

  • Share this:

    नई दिल्ली. अफगानिस्तान में तालिबानी आतंकियों को पाकिस्तान से मिल रही मदद की खबरों के बीच एक वीडियो सामने आया है, जिसमें साफ तौर पर देखा जा सकता है कि पाकिस्तानी सेना के जवान तालिबान के नियंत्रण वाले अफगान इलाके में आतंकियों के साथ खड़े हैं. इस वीडियो को अफगानिस्तान की एक मीडिया एजेंसी आरटीए वर्ल्ड ने ट्विटर पर जारी किया है.


    वीडियो शेयर करते हुए उन्होंने लिखा, 'तालिबान के नियंत्रण वाले इलाकों में पाकिस्तानी सैनिकों की आवाजाही. सोशल मीडिया पर साझा किए गए वीडियो में दिखाया गया है कि पाकिस्तानी सेना ने अफगान प्रांत के स्पिन बोल्डक में 'नजर सुरक्षा पोस्ट' से डूरंड रेखा को पार कर अफगान धरती पर कदम रखा.' डूरंड रेखा पाकिस्तान और अफगानिस्तान के बीच की सीमा रेखा है.


    जब अशरफ गनी बोले- अफगानिस्तान का राष्ट्रपति होना धरती की सबसे खराब जॉब


    बीते 14 जुलाई को ताबिलान ने दावा किया था कि उसने अफगानिस्तान के महत्वपूर्ण ''स्पिन बोल्डक क्रॉसिंग'' पर कब्जा कर लिया है. कंधार का 'स्पिन बोल्डक' पाकिस्तान के चमन शहर से सटी अफगान सीमा का एक अहम रणनीतिक बिंदु है, जिसके जरिए दोनों देशों के बीच बड़े स्तर पर व्यापार होता है.





    तालिबान आतंकवादियों ने हाल के सप्ताहों में दर्जनों जिलों पर कब्जा कर लिया है और अब माना जा रहा है कि 11 सितंबर को अफगानिस्तान से अमेरिकी और पश्चिमी सैनिकों की पूर्ण वापसी से पहले देश के करीब एक तिहाई हिस्से पर उनका नियंत्रण है.


    यह वीडियो ऐसे समय में सामने आया है जबकि अफगानिस्तान के उपराष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह ने बीते 15 जुलाई को आरोप लगाया था कि पाकिस्तानी वायुसेना चमन और स्पिन बोलडाक के सीमावर्ती इलाकों में तालिबान आतंकवादियों की मदद कर रही है. हालांकि पाकिस्तान ने इससे हमेशा ही इनकार किया है.




    इससे पहले उज्बेकिस्तान की राजधानी ताशकंद में बीते 16 जुलाई को एक सम्मेलन में अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने पाकिस्तानी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि इस्लामाबाद अफगानिस्तान में हिंसा को हवा दे रहा है. गनी ने कहा था कि पिछले महीने पाकिस्तान से 10 हजार से ज्यादा जिहादी लड़ाके सीमा पार कर उनके देश में दाखिल हुए हैं. उन्होंने कहा कि अफगान बलों से झड़प के दौरान घायल हुए तालिबान आतंकवादियों का पाकिस्तान के अस्पतालों में इलाज होता है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज