लाइव टीवी

सिगरेट के आदी पाकिस्‍तानी सऊदी अरब जाते वक्‍त रहें होशियार

News18Hindi
Updated: January 27, 2020, 1:08 PM IST
सिगरेट के आदी पाकिस्‍तानी सऊदी अरब जाते वक्‍त रहें होशियार
अब सऊदी अरब जाने वाले मुसाफिरों को सिगरेट के 05 पैकेट से ज्‍यादा ले जाने की अनुमति नहीं होगी, वहीं तंबाकू की सीमा भी करीब 03 किलो तय कर दी गई है.

सऊदी अरब के कस्‍टम विभाग की ओर से जारी एक चेतावनी के मुताबिक आइंदा कोई भी विदेशी अपने साथ सिगरेट के 5 से ज्‍यादा नहीं ले जा सकता. अगर किसी व्‍यक्ति के पास इससे ज्‍यादा पैकेट होंगे, तो वह जब्‍त कर लिए जाएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 27, 2020, 1:08 PM IST
  • Share this:
पाकिस्‍तान (Pakistan) से हर साल 20 लाख से अधिक लोग उमरा, हज और रोजगार की वजह से सऊदी अरब (Saudi Arabia) जाते हैं. वहीं पहले से वहां रह रहे लाखों लोगों का भी आना-जाना लगा रहता है. पाकिस्‍तान के लोग तंबाकू (Tobacco) पीने के बहुत शौकीन हैं. हालांकि अब उन्‍हें अपने शौक को लेकर कुछ एहतियात बरतनी होगी. वरना उन्‍हें लाखों रुपये का नुकसान उठाना पड़ सकता है.

अब सऊदी अरब जाने वाले मुसाफिरों को सिगरेट के 5 पैकेट से ज्‍यादा ले जाने की अनुमति नहीं होगी. तंबाकू की सीमा करीब 3 किलो तय कर दी गई है. सऊदी अरब के कस्‍टम विभाग (Custom Department) की ओर से जारी एक चेतावनी के मुताबिक आइंदा कोई भी विदेशी अपने साथ सिगरेट के 5 से ज्‍यादा पैकेट नहीं ले जा सकता.

अगर किसी व्‍यक्ति के पास इससे ज्‍यादा पैकेट होंगे, तो वह जब्‍त कर लिए जाएंगे. यह नियम 16 जनवरी, 2020 से लागू हो गया है. वहीं हुक्‍के के लिए तंबाकू की सीमा एक डिब्‍बा या आधा किलो ग्राम तक तय की गई है. कस्‍टम विभाग के मुताबिक यह पाबंदी उन सभी मुसाफिरों पर लागू होगी जो पोर्ट्स, बंदरगाहों या जमीनी सरहदी चौकियों के जरिये देश में दाखिल होंगे.

सऊदी देशों में चंद महीने पहले होटल, रेस्‍टोरेंट और कैफे में शराब पाए जाने पर 100 फीसदी टैक्‍स कर दिया गया था. इस फैसले का असर भी दिखाई देने लगा है. अब तक दर्जनों कैफे बंद हो चुके हैं. जबकि अगले चंद दिनों में सैकड़ों कैफे के बंद होने का अंदेशा पैदा हो गया है.

कई ट्विटर (Twitter) यूजर की ओर से कई ऐसी तस्‍वीरें और वीडियो पोस्‍ट किए जा रहे हैं जिनमें कैफे ग्राहकों से खाली नजर आ रहे हैं. क्‍योंकि बढ़ी हुई कीमतों की वजह से लोगों ने कैफे जाना बंद कर दिया है. नए कानून के मुताबिक शराब परोसने वाले होटलों, रेस्‍टोरेंट और कैफे मालिकों को इसके लिए लाइसेंस हासिल करना होगा. इस लाइसेंस (License) को हर साल रिन्‍यू कराना भी जरूरी होगा.

 

ये भी पढ़ें- इस देश में इंसानों की जिंदगी बचा रहे हैं चूहे, दुनियाभर में हो रही तारीफ

इजरायली नागरिकों को पहली बार सऊदी अरब जाने की इजाजत मिली

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 27, 2020, 12:30 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर