पाकिस्तान की सबसे बड़ी टिकटॉक स्टार ने देश छोड़ा, कहा- लोग घटिया हैं

पाकिस्तान की सबसे बड़ी टिकटॉक स्टार जन्नत मिर्जा देश छोड़कर जापान चली गईं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)
पाकिस्तान की सबसे बड़ी टिकटॉक स्टार जन्नत मिर्जा देश छोड़कर जापान चली गईं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पाकिस्तान से टिकटॉक (TikTok) को बोरिया बिस्तर लादकर जाना पड़ा. वहीं जन्नत मिर्जा (Jannat Mirza) को भी पाकिस्तान को छोड़कर जापान जाना पड़ा. जन्नत पाकिस्तान के लोगों की घटिया मानसिकता से परेशान थीं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 19, 2020, 7:03 AM IST
  • Share this:
इस्लामाबाद. पाकिस्तान से टिकटॉक (TikTok) को बोरिया बिस्तर लादकर जाना पड़ा. वहीं जन्नत मिर्जा (Jannat Mirza) को भी पाकिस्तान को छोड़कर जापान जाना पड़ा. जन्नत के पाकिस्तान छोड़ने पर जब उनके प्रशंसकों ने पूछा कि वह जापान से वापस नहीं आएंगी? इसके जवाब में जन्नत ने पाकिस्तान की जनता की मानसिकता को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि वे अब जापान में ही रहेंगी. गौरतलब है कि पाकिस्तान में टिकटॉक को बैन (TikTok Ban in Pakistan) कर दिया है.

इंस्टाग्राम पर भी हैं 10 लाख से ज्यादा फॉलोअर

जन्नत टिकटॉक पाकिस्तान की बड़ी स्टार हैं और भारत और अमेरिका समेत कई देशों में बहुत पॉपुलर हैं. भारत, पाकिस्तान, अमेरिका समेत कई देशों में टिकटॉक पर जन्नत के लाखों प्रशंसक हैं. जन्नत के इंस्टाग्राम पर भी 10 लाख से ज्यादा फॉलोअर्स हैं. पिछले कुछ सालों में टिकटॉक पूरी दुनिया में काफी ज्यादा हिट हुआ. जन्नत के पाकिस्तान छोड़कर जापान चले जाने की खबर के चलते उनके प्रशंसक दुखी हैं. जन्नत पाकिस्तान का सबसे बड़ी टिकटॉक स्टार हैं.



पाकिस्तान प्यारा देश, लोग घटिया हैं
पाकिस्तान में टिकटॉक बैन होने से पहले ही जन्नत मिर्जा देश छोड़कर जापान शिफ्ट हो गईं. हुजन्नत ने कहा कि पाकिस्तान बहुत ही प्यारा और खूबसूरत है, लेकिन वहां के लोगों की मानसिकता बहुत ज्यादा खराब है और यही वजह है कि अब वो वापस नहीं आएंगी.

ये भी पढ़ें: जिया के जूते पॉलिश कर पॉलिटिक्स में आए थे नवाज, अब गीदड़ भाग गया : इमरान 

अजरबैजान और आर्मेनिया संघर्ष विराम के लिए तैयार, एक सप्ताह पहले भी हुआ था समझौता 

टिकटॉक बैन का किया समर्थन जन्नन मिर्जा ने पाकिस्तान में टिकटॉक के बैन का समर्थन किया है. उन्होंने कहा कि वो खुद चाहती थीं कि पाकिस्तान में टिकटॉक बैन हो, लेकिन ये बैन स्थायी नहीं होना चाहिए. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में बहुत से लोगों की रोटी टिकटॉक से चलती हैं. इसके अलावा कई टैलेंटेड लोग भी टिकटॉक की वजह से दुनिया की नजरों में आए हैं. उनके मुताबिक सरकार को एक कमेटी बनानी चाहिए, जो उसके लिए एक मानक संचालय प्रक्रिया तय करे. इसी के आधार पर पाकिस्तान में फिर से टिकटॉक का संचालन शुरू हो.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज