Home /News /world /

इंडोनेशिया में भूकंप के बाद प्रियजनों को फेसबुक के सहारे ढूंढने में लगे लोग

इंडोनेशिया में भूकंप के बाद प्रियजनों को फेसबुक के सहारे ढूंढने में लगे लोग

प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो

इंडोनेशिया के लोग सुलावेसी द्वीप क्षेत्र में आए भूकम्प और सुनामी में लापता हुए अपने प्रियजनों की तलाश के लिये फेसबुक जैसे सोशल मीडिया का सहारा ले रहे हैं.

    इंडोनेशिया के लोग सुलावेसी द्वीप क्षेत्र में आए भूकंप और सुनामी में लापता हुए अपने प्रियजनों की तलाश के लिए फेसबुक जैसे सोशल मीडिया का सहारा ले रहे हैं.

    देश में आई इस आपदा का इंपैक्ट अब भी पूरी तरह साफ नहीं है. यहां दूरसंचर सेवाएं ठप होने के साथ कुछ इलाके पहुंच से दूर हैं. इसलिए आपदा से प्रभावित लापता लोगों को ढूंढने के लिये परिवार के लोग उनकी फोटो, विवरण और कॉन्टैक्ट नंबर सोशल मीडिया में पोस्ट कर रहे हैं.

    6,843 सदस्यों वाले फेसबुक ग्रुप पर एक यूजर ने पूछा 'इन तस्वीरों में से आपने क्या किसी को भी देखा है.' इसमें कहा गया है, 'मैं जानना चाहता हूं कि क्या वे सुरक्षित हैं? अभी तक उनके बारे में मुझे कोई सूचना नहीं मिली है. अभी तक कॉन्टैक्ट नहीं हो पा रहा है. मुझे बताएं क्या आपने उन्हें देखा है.'

    अन्य लोग बुरी तरह प्रभावित पालू में दोस्तों की मदद करने का प्रयास कर रहे हैं. इसके अलावा एक पिता, मां और बच्चे के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए पोस्ट में कहा गया है, 'पालू और शहर के आसपास के इलाकों में कृपया कोई भी मदद करे. मेरे दोस्त के परिवार के सदस्य अब तक लापता हैं.'

    कुछ यूजर्स ने पालू के निवासियों के बारे में सूचना शेयर की है, जिन्हें बचाकर सुरक्षित इलाके तक पहुंचाया गया है. बीते 29 सितंबर के पोस्ट में 53 नागरिकों के नाम हैं, जिन्हें इंडोनेशिया की एक सरकारी बिजली कंपनी के ऑफिस में सुरक्षित रखा गया है. .

    पोस्ट में मदद की गुहार भी लगाई गई है. पोस्ट में लिखा गया है, 'यहां बचाए गए लोगों को भोजन, पानी और बिजली की सख्त जरूरत है.' इंडोनेशिया के कुछ लोगों ने पेज पर मदद की भी पेशकश की है.

    Tags: Facebook, Indonesia, Social media, Tsunami

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर