दक्षिण कोरिया में हाहाकार, मर्स से मरने वालों का आंकड़ा हुआ 15 के पार

Tourists wearing face masks visit Gyeongbokgung palace in central Seoul on June 5, 2015. South Korea reported a fourth death from Middle East Respiratory Syndrome (MERS), as an infected doctor fuelled fears of a fresh surge in cases and prompted Seoul's mayor to declare
Tourists wearing face masks visit Gyeongbokgung palace in central Seoul on June 5, 2015. South Korea reported a fourth death from Middle East Respiratory Syndrome (MERS), as an infected doctor fuelled fears of a fresh surge in cases and prompted Seoul's mayor to declare "war" on the virus. AFP PHOTO / Ed Jones (Photo credit should read ED JONES/AFP/Getty Images)

दक्षिण कोरिया में सोमवार को मिडिल ईस्ट रेस्परटोरी सिंड्रोम (मर्स) के पांच नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद यहां मर्स के मामले बढ़कर 150 हो गए हैं।

  • Share this:
सियोल। दक्षिण कोरिया में सोमवार को मिडिल ईस्ट रेस्परटोरी सिंड्रोम (मर्स) के पांच नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद यहां मर्स के मामले बढ़कर 150 हो गए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि मर्स के एक और मरीज की मौत के बाद मृतकों का आंकड़ा 16 हो गया है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, मर्स संक्रमित सात लोगों की हालत अब तक चिंताजनक बनी हुई है। मंत्रालय ने बताया कि मर्स के 14 मरीज बीमारी से पूरी तरह उबर चुके हैं और चार अन्य लोगों को अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है । विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने मर्स संक्रमण पर चर्चा के लिए मंगलवार को एक आपातकालीन बैठक बुलाई है।

मर्स, एक नए प्रकार के कोरोना-वायरस के संक्रमण से होने वाली बीमारी है, जो एसएआरएस वायरस से मिलता-जुलता है। 2003 में एसएआरएस संक्रमण से 770 लोगों की मौत हुई थी। मर्स के इलाज के लिए अब तक प्रभावी टीके या उपचार की खोज नहीं हो पाई है।



मर्स का पहला मामला सऊदी अरब में 2012 में सामने आया था। डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, तब से लेकर अब तक दुनियाभर में मर्स के 1,000 मामले सामने आ चुके हैं और इस बीमारी से 400 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज