Home /News /world /

फाइजर-बायोटेक का दावा, कोरोना के नए वेरिएंट पर भी असर करेगी उनकी कोविड वैक्सीन

फाइजर-बायोटेक का दावा, कोरोना के नए वेरिएंट पर भी असर करेगी उनकी कोविड वैक्सीन

कोविड  -19 (Covid-19) के बढ़ते मामलों का मिलना  चिंतित कर रहा है. (फाइल फोटो)

कोविड -19 (Covid-19) के बढ़ते मामलों का मिलना चिंतित कर रहा है. (फाइल फोटो)

फाइजर और बायोटेक (Pfizer-BioNTech) की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि कोरोना के पुराने वायरस और नए वेरिएंट में जो कुछ बदलाव देखे गए हैं उनके कारण ऐसा नहीं होगा कि वैक्सीन की प्रभावशीलता कम हो जाए.

    फाइजर और बायोटेक (Pfizer-BioNTech) की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि उनकी कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) ब्रिटेन और दक्षिण अफ्रीका के नए कोरोना वायरस वेरिएंट्स पर भी कारगर साबित होगी. बयान में कहा गया है कि कोरोना के पुराने वायरस और नए वेरिएंट में जो कुछ बदलाव देखे गए हैं उनके कारण ऐसा नहीं होगा कि वैक्सीन की प्रभावशीलता कम हो जाए.

    शोधकर्ताओं ने अपनी अब तक की रिसर्च से ये पाया है कि कोरोना के नए वेरिएंट से लड़ने के लिए किसी भी तरह की दूसरी वैक्सीन की जरूरत नहीं है. इस शोध के आधार पर फाइजर और बायोटेक ने बयान दिया है कि अगर शोध में ऐसा पाया जाएगा कि नए वेरिएंट पर वैक्सीन असर नहीं करेगी तब कंपनी कोई और प्रतिक्रिया करेगी.

    बयान में कहा गया है कि कंपनी नए वायरस पर भी अपनी वैक्सीन की प्रभावशीलता पर नजर बनाए रखेगी. फाइजर और बायोटेक का ये मानना है कि अगर वायरस के नए वेरिएंट से लड़ने के लिए दूसरी वैक्सीन बनाने की जरूरत पड़ी तो उनका वैक्सीन प्लेटफॉर्म इतना लचीला है कि वो दूसरी वैक्सीन जल्द तैयार कर लेंगे. गौरतलब है कि दुनिया के कई देशों में कोरोना का कहर अभी भी जारी है. दुनिया में कोरोना संक्रमित की कुल संख्या 10 करोड़ से अधिक हो चुकी है.

    Tags: Britain, Coronavirus, Coronavirus vaccine, New variant, Pfizer, South africa, UK, United kingdom

    अगली ख़बर