अपना शहर चुनें

States

US में इमरजेंसी अप्रूवल से एक कदम दूर Pfizer वैक्सीन, सरकारी समिति ने दी मंजूरी

अमेरिका में फाइजर वैक्सीन के इस्तेमाल को जल्द मिल सकती है मंजूरी.
अमेरिका में फाइजर वैक्सीन के इस्तेमाल को जल्द मिल सकती है मंजूरी.

Pfizer Covid-19 Vaccine: ब्रिटेन और कनाडा के बाद अब अमेरिका में भी फाइजर वैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए मंजूरी दी जा सकती है. अमेरिकी सरकार की एक समिति ने फाइजर वैक्सीन के जल्द से जल्द इस्तेमाल की सिफारिश की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 11, 2020, 9:51 AM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. ब्रिटेन (UK) और कनाडा (Canada) के बाद अमेरिका में भी Pfizer-BioNTech की कोरोना वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी जल्द मिल सकती है. FDA (Food and Drug Administration) से जुड़े अमेरिकी सरकार के एक पैनल ने फाइजर के इस्तेमाल पर सहमति दे दी है. इसके बाद एक स्वतंत्र पैनल की मंजूरी मिलते ही फाइजर वैक्सीन को FDA का अप्रूवल मिल जाएगा और उसके जरिए मास वैक्सीनेशन प्रोग्राम शुरू किया जा सकेगा. जानकारों के मुताबिक वैक्सीन को अगले दो दिनों के भीतर ही मंजूरी मिल सकती है.

अमेरिकी सरकार की इस समिति ने कहा कि ये वैक्सीन इस महामारी की लम्बी अंधेरी गुफा में मिली पहली रोशनी की किरण है. अमेरिकन एकेडमी ऑफ़ पीडियेट्रिक्स की डॉक्टर सैली गोजा ने कहा कि समिति में मौजूद 21 लोगों में से 17 ने इसके इस्तेमाल की मंजूरी के पक्ष में वोट किया है, हालांकि 4 लोगों का मानना था कि पहले इसके साइडइफेक्ट्स के बारे में जांच कर ली जानी चाहिए. समिति के अधिकतर सदस्यों ने माना कि ये असरदार है और अमेरिका में बिगड़ती स्थिति के मद्देनज़र इसका जल्द से जल्द इस्तेमाल किया जाना चाहिए. FDA के एक एडवाइजरी पैनल ने इस संस्था से अपील में कहा है कि वो फाइजर-बायोएनटेक वैक्सीन को कम से कम इमरजेंसी में इस्तेमाल के लिए अप्रूवल दे. FDA की अप्रूवल में देरी के लिए काफी आलोचना हो रही है.

ट्रंप ने जताई है नाराजगी
बता दें कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी कई हफ्ते पहले FDA को फटकार लगा रहे हैं. जबकि, इस संस्था की दलील है कि वैक्सीन अप्रूवल में कोई जल्दबाजी की गई तो इसके नतीजे गंभीर हो सकते हैं. अमेरिका में वैक्सीन अप्रूवल की प्रक्रिया काफी जटिल है. अगर वैक्सीन को अप्रूवल मिल जाता है कि ब्रिटेन और कनाडा के बाद अमेरिका इस वैक्सीन को मंजूरी देने वाला तीसरा देश होगा. गुरुवार को न्यू इंग्लैंड मेडिकल जर्नल ने फाइजर वैक्सीन को अपनी रिपोर्ट में 95% इफेक्टिव बताया. रिपोर्ट में कहा गया कि इसका ट्रायल 43 हजार लोगों पर किया जा चुका है. जर्नल ने इसे महामारी पर साइंस की जीत करार दिया.
अमेरिका में बुधवार को एक ही दिन में 3260 लोगों की मौत के बाद सरकार पर दबाव बढ़ गया है. यह एक दिन में हुई मौतों का सबसे बड़ा आंकड़ा है. केंद्र और राज्य सरकारों ने कुछ हफ्ते पहले ही लोगों को चेतावनी दी थी कि वे थैंक्स गिविंग डे की छुट्टियों के दौरान यात्रा और लापरवाही से बचें.मौतों और संक्रमण के आंकड़े बता रहे हैं कि सरकार की वॉर्निंग को गंभीरता से नहीं लिया गया.





कनाडा में जल्द शुरू होगा वैक्सीनेशन
कनाडा ने बुधवार को फाइजर-बायोएनटेक की वैक्सीन को अप्रूवल दिया था. अब यहां की हेल्थ मिनिस्ट्री ने साफ कर दिया है कि देश में बड़े पैमाने पर वैक्सीनेशन बहुत जल्द शुरू होगा. गुरुवार को हेल्थ मिनिस्ट्री की जनरल एडमिनिस्ट्रेश से लंबी बैठक हुई. इसमें वैक्सीनेशन प्रॉसेस पर विचार किया गया. ‘द गार्डियन’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, अगले हफ्ते वैक्सीनेशन शुरू हो सकता है और सबसे पहले यह हाई रिस्क वाले लोगों को दी जाएगी. कनाडा को रविवार को 30 हजार डोज मिलेंगे। इस महीने के आखिर तक यह संख्या 2 लाख 49 हजार हो जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज