COVID-19 Vaccine: अब बच्चों के भी वैक्सीनेशन की जगी उम्मीद, अमेरिका में Pfizer वैक्सीन को मिली इजाजत

फाइज़र कोरोना वैक्सीन. (फाइल फोटो)

फाइज़र कोरोना वैक्सीन. (फाइल फोटो)

अमेरिका (America) में अब फाइजर की कोविड वैक्सीन (Pfizer Covid-19 Vaccine ) 12 साल तक के बच्चे को लगायी जाएगी. बच्चों का वैक्सीनेशन शुरू होने के बाद माना जा रहा है कि वह फिर से स्कूल जा सकेंगे.

  • Share this:

वॉशिंगटन. अमेरिका (America) में अब कोरोना संक्रमण रोधी वैक्सीन (Covid19 Vaccine) बच्चों को भी लगायी जाएगी. अमेरिका में अब फाइजर की कोविड वैक्सीन (Pfizer Covid-19 Vaccine ) 12 साल तक के बच्चे को लगायी जाएगी. इस बाबत अमेरिकी नियामकों ने जरूरी मजूरी दे दी है. बच्चों का वैक्सीनेशन शुरू होने के बाद माना जा रहा है कि अब वह फिर से स्कूल जा सकेंगे.

सामान्य स्थिति में वापसी के लिए सभी उम्र के बच्चों का टीकाकरण महत्वपूर्ण है. दुनिया भर में लगाये जा रहे अधिकांश COVID-19 टीके को वयस्कों के लिए ही अधिकृत हैं. फाइजर के टीका का उपयोग कई देशों में 16 वर्ष से कम उम्र के किशोरों के लिए किया जा रहा है और कनाडा हाल ही में 12 और उससे अधिक के उम्र के बच्चों को वैक्सीनेट करने वाला पहला देश बन गया है.

2,000 लोगों पर की गई स्टडी

2,000 से अधिक अमेरिकी वॉलंटियर्स पर किये गये ट्रायल के आधार पर फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन ने कहा कि फाइजर वैक्सीन सुरक्षित है और 12 से 15 साल के किशोरों को मजबूत सुरक्षा देता है. फाइजर और इसके जर्मन पार्टनर बायोएनटेक ने हाल ही में यूरोपीय संघ में बच्चों के वैक्सीनेशन की अनुमति मांगी है.
हालांकि Pfizer एकमात्र ऐसी कंपनी नहीं है जो अपने टीके के लिए आयु सीमा को कम करना चाहती है. मॉडर्ना ने हाल ही में 12 से 17 साल के बच्चों पर स्टडी की और इसमें पाया गया कि इनके वैक्सीन का बच्चों पर कोई दुष्प्रभाव नहीं है. एक अन्य अमेरिकी कंपनी नोवावैक्स की COVID-19 वैक्सीन है आखिरी चरण में है और उसने भी 12- से 17 साल के बच्चों पर स्टडी शुरू कर दी है.


इसके बाद फाइजर और मॉडर्न दोनों ने 6 महीने से 11 साल तक के बच्चों के वैक्सीनेशन पर स्टडी शुरू की है. इसके तहत यह जानकारी हासिल करने की कोशिश होगी कि क्या इस उम्र के बच्चों के डोज में कमी होगी या उन्हें किशोरों और वयस्कों की तरह दो डोज लगाए जाएंगे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज