COVID-19 Vaccine: कोरोना वैक्सीन के इमरजेंसी उपयोग के लिए मॉडर्ना जल्द कर सकती है आवेदन, फाइजर मांग चुकी है अनुमति

मॉडर्ना ने अपने टीके को कोरोना वायरस के खिलाफ 94.5 प्रतिशत प्रभावी बताया
है (सांकेतिक तस्वीर)
मॉडर्ना ने अपने टीके को कोरोना वायरस के खिलाफ 94.5 प्रतिशत प्रभावी बताया है (सांकेतिक तस्वीर)

Corona Vaccine: कुछ ही दिनों पहले फाइजर (Pfizer) और जर्मन पार्टनर बायोएनटेक ने दावा किया था कि फाइनल ट्रायल के रिजल्ट के बाद कोविड-19 (Covid-19) के खिलाफ उनकी वैक्सीन 95 फीसदी तक कारगर रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 21, 2020, 12:38 PM IST
  • Share this:
वॉशिंगटन. कोरोना वायरस (Coronavirus) से निपटने की कवायद रफ्तार पकड़ती नजर आ रही है. हाल ही में वैक्सीन बनाने वाली कंपनी फाइजर ने अमेरिकी नियामकों (FDA) से दवा के इमरजेंसी उपयोग की अनुमति मांगी है. कंपनी के सीईओ एल्बर्ट बोर्ला ने कंपनी की वेबसाइट पर पोस्ट एक वीडियो के जरिए इस बात की पुष्टि की है. माना जा रहा है कि फाइजर के बाद अब मॉडर्ना (Moderna) भी इमरजेंसी एप्लीकेशन की तैयारी कर रही है.

कुछ ही दिनों पहले फाइजर और जर्मन पार्टनर बायोएनटेक ने दावा किया था कि फाइनल ट्रायल के रिजल्ट के बाद कोविड-19 के खिलाफ उनकी वैक्सीन 95 फीसदी तक कारगर रही है. अमेरिका फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) डिपार्टमेंट को दिए गए आवेदन में कंपनी ने 12-15 साल की उम्र के 100 बच्चों का सेफ्टी डेटा भी शामिल किया था. कंपनी ने कहा कि अमेरिकी ट्रायल में शामिल होने वाले 45 प्रतिशत लोगों की उम्र 56-86 साल के बीच थी.

कंपनी के शेयर में आई बढ़त
अमेरिका के हेल्थ एंड ह्यूमन सर्विसेज सेक्रेटरी एलेक्स अजार ने कहा, 'अगर डेटा वाकई मजबूत है, तो हम 95 फीसदी असरदार वैक्सीन की ऑथोराइजेशन से कुछ हफ्ते ही दूर हैं.' कंपनी उम्मीद कर रही है कि एफडीए इमरजेंसी यूज ऑथोराइजेशन यानी ईयूए मध्य दिसंबर तक दे सकता है. कंपनी ने कहा कि वह इसके बाद तुरंत ही शिपिंग के काम में लग जाएगी. फाइजर ने कहा है, 'उम्मीद है कि इस साल 5 करोड़ वैक्सीन तैयार हो जाएंगी'. खास बात है कि आवेदन के बाद से ही न्यूयॉर्क में फाइजर के शेयर्स 1.3 प्रतिशत, तो बायोएनटेक के 9.3 फीसदी ऊपर चले गए थे.



मॉडर्ना हो सकती है अगली दावेदार
उम्मीद की जा रही है कि फाइजर के बाद मॉडर्ना अग इमरजेंसी उपयोग के लिए आवेदन करने वाली दूसरी कंपनी हो सकती है. खास बात है कि ट्रायल के नतीजों के अनुसार मॉडर्ना की वैक्सीन 94.5 फीसदी असरदार रही थी. कंपनी आने वाले कुछ हफ्तों में फाइनल रिजल्ट और सेफ्टी डेटा जारी कर सकती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज