अपना शहर चुनें

States

फिलीपिंस के प्रेजिडेंट रोड्रिगो ने कहा- महिलाएं नहीं उठा सकती हैं राष्ट्रपति पद की जिम्मेवारी  

फिलीपिंस के प्रेजिडेंट रोड्रिगो ने कहा कि महिलाएं राष्ट्रपति पद की जिम्मेवारी नहीं उठा सकती हैं. फोटो: AFP
फिलीपिंस के प्रेजिडेंट रोड्रिगो ने कहा कि महिलाएं राष्ट्रपति पद की जिम्मेवारी नहीं उठा सकती हैं. फोटो: AFP

Rodrigo Duterte says the presidency is no job for a woman: फिलीपिन्स (Phillipines) के नेता रोड्रिगो डुटर्टे (Rodrigo Duterte) ने गुरूवार को यह घोषणा की है कि राष्ट्रपति पद की जिम्मेवारी (Responsbility of Presidency) महिलाएं नहीं उठा सकती हैं क्योंकि वह भावकुता के मामले में आदमी से अलग होती हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 17, 2021, 12:04 PM IST
  • Share this:
मनीला. फिलीपिन्स (Philippines) के नेता रोड्रिगो डुटर्टे (Rodrigo Duterte) ने गुरूवार को यह घोषणा की है कि राष्ट्रपति पद की जिम्मेवारी (Responsbility of Presidency) महिलाएं नहीं उठा सकती हैं क्योंकि वह भावकुता के मामले में आदमी से अलग होती हैं. रोड्रिगो डुटर्टे ने यह बयान देकर यह जाहिर कर दिया कि अगले साल वह अपनी बेटी को राष्ट्रपति पद सुपुर्द करने नहीं जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि मेरी बेटी राष्ट्रपति पद के लिए होने वाले चुनाव में भाग लेने नहीं जा रही है. मैंने इंडे से कहा कि तुम राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव मत लड़ना क्योंकि मैंने इस पद के लिए जो झेला है, उसे तुम मत झेलो. डुटर्टे ने ये बातें हाईवे प्रोजेक्ट के लॉन्चिंग पर कही. वह इस अवसर अपनी बेटी को निकनेम सारा कहकर बुला रहे थे.

'महिलाओं की भावकुता का स्तर आदमियों से बिल्कुल अलग होती है'

डुटर्टे ने कहा कि राष्ट्रपति पद की जिम्मेवारी महिलाओं के लिए नहीं है. जैसा कि तुम जानती हो कि स्त्रियों की भावुकता पुरुषों से बिल्कुल अलग होती है. तुम्हें यहां मूर्ख बनाया जाएगा. और... यह एक दुखद कहानी है. हालांकि, फिलीपिन्स में अबतक दो महिलाएं- ग्लोरिया मैकापगल अर्रोयो और कोराजोन अक्विनो ने राष्ट्रपति पद की जिम्मेवारी संभाली है.



डुटर्टे अपने Sexist कमेंट के लिए जाने जाते हैं
डुटर्टे अब 75 साल के हो चुके हैं. वे अपनी टिप्पिणयों के लिए कुख्यात हैं. वे अक्सर हमलावर, महिला विरोधी, स्त्री द्वेष टिप्पिणयों को लेकर चर्चा में रहते हैं. हालांकि, उनका दफ्तर उनकी ऐसी टिप्पिणयों को नुकसानरहित और चुटकुला बताता रहा है. इन सबके बावजूद डुटर्टे महिला वोटरों के बीच बहुत ज्यादा पॉपुलर हैं. उनकी 42 वर्षीय बेटी सारा डुटर्टे कार्पियो को उनका उत्तराधिकारी माना जाता है. सारा इस समय डावाओ सिटी की मेयर पद की जिम्मेवारी संभाल रही हैं. वर्ष 2022 के राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए सबसे पॉपुलर कैंडिडेट के लिए हुए सर्वे में सारा टॉप पर रहीं. इस लिस्ट में शामिल दूसरी दो अन्य महिलाएं वर्तमान उपराष्ट्रपति लेनी राब्रेडो और सीनेटर ग्रेस पो को काल्पनिक प्रतिद्वंदी बताया गया है.

ये भी पढ़ें: तमिलनाडु की पवित्र कोलम रंगोली से होगी बाइडन-हैरिस के शपथग्रहण समारोह की शुरुआत

भारतीय-अमेरिकी महिला जेया को बाइडन ने विदेश मंत्रालय में अहम पद के लिए नामित किया

मानवाधिकार समूह से जुड़ी क्रिस्टीना पालाबे ने कहा कि महिलाएं पुरुषों की तरह किसी भी जिम्मेदारी या काम को करने में सक्षम होती हैं. इस टिप्पणी के जवाब में डुटर्टे ने महिलाओं को राष्ट्रपति पद की जिम्मेदारी नहीं लेने के काबिल बताया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज