शैतान को कंकड़ मारने की प्रथा के साथ सऊदी अरब में ईद के जश्न का आगाज

देश भर में बकरीद (Bakrid) का त्यौहार 12 अगस्त को मनाया जायेगा. लेकिन सऊदी अरब (Saudi Arab) में रविवार से इस त्यौहार का आगाज़ हो चुका है.

भाषा
Updated: August 11, 2019, 6:08 PM IST
शैतान को कंकड़ मारने की प्रथा के साथ सऊदी अरब में ईद के जश्न का आगाज
देश भर में बकरीद (Bakrid) का त्यौहार 12 अगस्त को मनाया जायेगा. लेकिन सऊदी अरब (Saudi Arab) में रविवार से इस त्यौहार का आगाज़ हो चुका है.
भाषा
Updated: August 11, 2019, 6:08 PM IST
सऊदी अरब (Saudi Arab) में हजयात्रा (Hajj) के अंतिम चरण में शैतान को कंकड़ मारने की प्रथा में दुनिया भर से आये करीब 25 लाख हजयात्रियों ने हिस्सा लिया. इसके साथ ही ईद-उल-अजहा (Eid-Ul-Adha) के जश्न की शुरुआत हो गयी. हज यात्रा सम्पन्न होने पर धार्मिक नवजागरण और पुनर्जन्म के प्रतीक के तौर पर पुरुषों ने अपने बाल मुड़वाये और महिलाओं ने बाल कटवाये. यात्रा सम्पन्न होने पर पुरूष हजयात्री हज के दौरान पहने जाने वाले खास सफेद लिबास ‘एहराम’ की जगह अपने पुराने कपड़ों को पहन सकते हैं.

हज खत्म होने पर मनाया जाता है ईद का जश्न
मुस्लिमों के लिये अपने जीवन में एक बार पांच दिन की हजयात्रा करना जरूरी होता है, अगर वे शारीरिक और आर्थिक रूप से इसे करने में सक्षम हैं. दुनिया भर में मुस्लिम समुदाय के लोग हज के खत्म होने पर ईद का जश्न मनाते हैं. इसमें वे गरीबों को मांस भी बांटते हैं.

मीना में हज यात्रा के अंतिम चरण को पूरा करने के बाद मोहम्मद सालेह ने कहा, ‘‘मैं सूडान से मक्का आया था, जहां मैंने हज की प्रथाओं में हिस्सा लिया.’’ मीना में हज के अंतिम चरण में हजयात्री शैतान के प्रतीकात्मक खंभे पर कंकड़ मारते हैं.

हज यात्रा सम्पन्न होने पर धार्मिक नवजागरण और पुनर्जन्म के प्रतीक के तौर पर पुरुषों ने अपने बाल मुड़वाये और महिलाओं ने बाल कटवाये.


इस साल 18.5 लाख हजयात्री पहुंचे थे सऊदी
सऊदी अरब ने कहा कि इस साल हज यात्रा के दौरान 160 से अधिक देशों से 18.5 लाख हजयात्री सऊदी अरब आये थे. सऊदी अरब से 6,34,000 लोगों ने हज यात्रा की जिनमें 70 प्रतिशत यहां रहने वाले गैर सऊदी नागरिक थे.
Loading...

सऊदी मीडिया की खबर के अनुसार रविवार को शाह सलमान ने मीना की यात्रा कर वहां सुरक्षा इंतजामों और अन्य इंतजामों का जायजा लिया. उनके साथ आये मेहमानों में इस साल मार्च में न्यूजीलैंड में मस्जिद पर हुए हमले के पीड़ितों के रिश्तेदार भी शामिल थे.

मीना में 2015 में शैतान को कंकड़ मारने की प्रथा के दौरान भीषण भगदड़ की घटना हुई थी जिसमें 2,400 से अधिक लोग मारे गये थे. आपको बता दें भारत में बकरीद (Bakrid) का त्यौहार 12 अगस्त को मनाया जायेगा.

ये भी पढ़ें-
भारत से पंगा लेना पाकिस्तान को पड़ा भारी, बकरीद से पहले महंगाई पर हाहाकार

CNN-NEWS18 Survey: घाटी में शांति बरकरार, लोगों ने कहा- खत्‍म हो आतंकवाद
First published: August 11, 2019, 4:36 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...