हम कहीं भी रहें, भारतीय होने का गर्व हमें एक सूत्र में बांधता हैः स्वीडन में पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि हम चाहे किसी भी देश में रहें, कोई भी भाषा बोलें एक चीज है जो हमें एक सूत्र में बांधती है वह है भारतीय होने का गर्व.

News18Hindi
Updated: April 18, 2018, 12:16 AM IST
हम कहीं भी रहें, भारतीय होने का गर्व हमें एक सूत्र में बांधता हैः स्वीडन में पीएम मोदी
पीएम मोदी ने स्वीडन के स्टॉकहोम में भारतीय समुदाय को संबोधित किया.
News18Hindi
Updated: April 18, 2018, 12:16 AM IST
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वीडन दौरे पर हैं. यहां की राजधानी स्टॉकहोम में पीएम मोदी मंगलवार रात भारतीय समुदाय को संबोधित किया. इस कार्यक्रम में  स्वीडन के पीएम स्टीफन लोफवन ने भी मोदी के साथ मौजूद रहे.

मोदी से पहले स्टीफन ने भारतीय समुदाय को संबोधित किया. उन्होंने कहा, 'नमस्कार, यह मेरा सबसे छोटा भाषण होने वाला है क्योंकि मैं जानता हूं कि आप सब किसे सुनना चाहते हैं.'

पीएम मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत स्वीडिश पीएम की तारीफ के साथ की. पीएम ने कहा कि स्टीफन न केवल उन्हें लेने रात को एयरपोर्ट पहुंचे, उन्होंने उन्हें होटल तक पहुंचाया भी. पीएम ने कहा कि यह उनका नहीं स्वीडन में रह रहे भारतीयों का सम्मान है. उन्होंने स्वीडन के पीएम के लिए खड़े होकर तालियां भी बजवाई.

पीएम मोदी ने कहा कि हम चाहे किसी भी देश में रहें, कोई भी भाषा बोलें एक चीज है जो हमें एक सूत्र में बांधती है वह है भारतीय होने का गर्व.

देश एक बड़े बदलाव से गुजर रहा है. चार सालों में हमने न्यू इंडिया के निर्माण के लिए भरसक प्रयास किया है. हमने 2022 तक संकल्प से सिद्धी का प्रण लिया है. हमने विश्व में भारत का सम्मान बढ़ाने में कोई कमी नहीं की.

पीएम ने कहा, अफ्रीका हो या पैसिफिक क्षेत्र के छोटे देश, या फिर आसियान या यूरोप या एशिया, सभी आज भारत को एक विश्वसनीय साथी, एक भरोसेमंद मित्र के रूप में देख रहे हैं.

पीएम मोदी ने कहा- हमारी टेक्नॉलोजी का लोहा पूरी दुनिया मान रही है. भारत का स्पेस प्रोग्राम दुनिया के टॉप फाइव एक्स्प्लोरेशन प्रोग्राम्स में से एक है. यह तकनीकी रूप से एडवांस्ड तो है ही कॉस्ट इफेक्टिव भी है. देश के भीतर हम तकनीक का इस्तेमाल सरकार और नागरिकों के बीच कनेक्शन स्थापित करने के लिए कर रहे हैं. आज एक आम आदमी सीधे सरकार से संवाद कर रहा है.

पीएम ने कहा, 'सरकार के काम करने को लेकर जो तस्वीर आपके दिमाग में थी वह अब बदल गई है. अब सरकारी दफ्तरों में फाइल रोककर रखने कल्चर नहीं है. बल्कि जो काम सालों से अटका पड़ा है उसे पूरा करने पर जोर है. आज भारत में बिजनेस करना आसान हो गया है. 42 रैंक की छलांग लगाकर भारत ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में पहली बार टॉप 100 में आया है.'
जीएसटी पर बात करते हुए पीएम ने कहा कि उद्योग जगत जीएसटी को अपने जीवन का हिस्सा बना रहा है. देश के टैक्स बेस में अभूतपूर्व वृद्धि हो रही है और बिजनेसमैन टैक्स फ्री हो गए हैं.

और भी देखें

Updated: July 15, 2018 08:10 AM IST#SerialKillers: वह सुनता था 'Highway To Hell' और कहता था 'शैतान ज़िंदाबाद'
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर