प्रधानमंत्री के सम्मान में ह्यूस्टन में होगा 'हाउडी-मोदी' कार्यक्रम, 50 हजार लोग लेंगे हिस्सा

इस आयोजन में एक सांस्कृतिक कार्यक्रम और मोदी का संबोधन होगा. ह्यूस्टन में जाने-माने भारतीय समुदाय के नेता जुगल मलानी को 'हाउडी-मोदी' आयोजक समिति का संयोजक नामित किया गया है.

भाषा
Updated: July 27, 2019, 12:08 PM IST
प्रधानमंत्री के सम्मान में ह्यूस्टन में होगा 'हाउडी-मोदी' कार्यक्रम, 50 हजार लोग लेंगे हिस्सा
ह्यूस्टन स्थित 'टेक्सास इंडिया फोरम' पीएम मोदी के सम्मान में एक सामुदायिक सम्मेलन आयोजित करेगा. (फाइल फोटो)
भाषा
Updated: July 27, 2019, 12:08 PM IST
ह्यूस्टन स्थित 'टेक्सास इंडिया फोरम' 22 सितंबर को एनआरजी स्टेडियम में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सम्मान में एक सामुदायिक सम्मेलन आयोजित करेगा. 'एनआरजी स्टेडियम' अमेरिका के सबसे बड़े पेशेवर फुटबॉल स्टेडियम में से एक है. गैर लाभकारी संगठन टेक्सास इंडिया फोरम ने पुष्टि की कि 'हाउडी-मोदी' नाम के इस कार्यक्रम में 50 हजार लोगों के भाग लेने की उम्मीद है.

कार्यक्रम के लिए 'स्वागत साझेदार' के तौर पर 650 से अधिक सामुदायिक संगठन पहले ही हस्ताक्षर कर चुके हैं. आयोजकों ने स्वागत साझेदारों को हस्ताक्षर करने के लिए शनिवार तक का समय बढ़ा दिया है और उन्हें अपने सदस्यों के लिए विशेष निशुल्क पास मिलेंगे.

PM मोदी का संबोधन होगा
इस आयोजन में एक सांस्कृतिक कार्यक्रम और मोदी का संबोधन होगा. ह्यूस्टन में जाने माने भारतीय समुदाय के नेता जुगल मलानी को 'हाउडी-मोदी' आयोजक समिति का संयोजक नामित किया गया है. मलानी ने कहा कि हम प्रख्यात एनआरजी स्टेडियम में यह सम्मेलन आयोजित करने को लेकर उत्साहित हैं. यह भारतीय अमेरिकियों और भारत के मित्रों की सबसे बड़ी सभा होगी.

भारत-अमेरिका को साथ लाने की मंशा
इस कार्यक्रम की टैगलाइन 'साझा सपने, उज्ज्वल भविष्य' आम आकांक्षाओं को पूरा करने के इरादे को दर्शाता है और यह आकांक्षा अमेरिका तथा भारत के महान लोकतंत्र को एक साथ लाना है. कार्यक्रम में भाग लेना निशुल्क होगा, लेकिन इसके लिए पास की जरुरत होगी, जिसे www.howdymodi.org वेबसाइट पर पंजीकरण करके हासिल किया जा सकता है.


Loading...

ह्यूस्टन में बड़ी संख्या में मोदी समर्थक
यह प्रधानमंत्री के तौर पर मोदी की ह्यूस्टन की पहली यात्रा होगी. कई वर्षों पहले जब मोदी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के महासचिव थे तब वह स्टैफोर्ड में बीएपीएस मंदिर की आधारशिला रखने के कार्यक्रम के सिलसिले में ह्यूस्टन आए थे. ह्यूस्टन इलाके में बड़ी संख्या में मोदी समर्थक रहते हैं और सैकड़ों स्वयंसेवक विदेशों से भारत में उनके चुनावी अभियानों में मदद करते रहे हैं.

ये भी पढ़ें: कश्मीर पर झूठे बयान के बाद इस जगह होगा ट्रंप का पीएम मोदी से पहला सामना

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 27, 2019, 11:24 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...