लाइव टीवी

प्रवासी भारतीयों की कड़ी मेहनत, प्रतिबद्धता ने भारती-सऊदी के द्विपक्षीय संबंध किए गहरे : मोदी

News18Hindi
Updated: October 29, 2019, 1:38 PM IST
प्रवासी भारतीयों की कड़ी मेहनत, प्रतिबद्धता ने भारती-सऊदी के द्विपक्षीय संबंध किए गहरे : मोदी
मोदी ने कहा प्रवासी भारतीयों की कड़ी मेहनत द्विपक्षीय संबंध हुए गहरे

मोदी (Modi) ने अरब न्यूज (Arab News) के साथ एक साक्षात्कार में कहा कि सऊदी अरब को करीब 26 लाख भारतीयों ने अपना दूसरा घर बना लिया है. वे इसकी वृद्धि एवं विकास में योगदान दे रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 29, 2019, 1:38 PM IST
  • Share this:
रियाद. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा कि सऊदी अरब (Saudi Arabia) में भारतीय समुदाय के कठिन परिश्रम और प्रतिबद्धता ने दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत किया है. मोदी ने अरब न्यूज के साथ एक साक्षात्कार में कहा कि सऊदी अरब को करीब 26 लाख भारतीयों ने अपना दूसरा घर बना लिया है. वे इसकी वृद्धि एवं विकास में योगदान दे रहे हैं.

हर साल हज और उमरा करने और व्यापार के मकसद से भी ढेर सारे भारतीय यहां आते हैं. प्रवासी भारतीयों को एक संदेश में मोदी ने कहा कि आपने जो अपनी जगह सऊदी में बनाई है उस पर भारत को गर्व है. आपकी कड़ी मेहनत और प्रतिबद्धता ने पूरे द्विपक्षीय संबंधों में अच्छी साख बनाने में मदद की है.

उन्होंने आश्वासन व्यक्त किया कि सऊदी में भारतीय समुदाय द्विपक्षीय संबंधों को बनाए रखने का एक अहम कारक है और आगे भी दोनों देशों के बीच ऐतिहासिक संबंधों को मजबूत करने में योगदान देगा, जो कई दशकों से लोगों के बीच सम्पर्क पर आधारित हैं. प्रधानमंत्री सोमवार की रात को रियाद पहुंचे. यहां वह देश के वार्षिक आर्थिक सम्मेलन में हिस्सा लेंगे और सऊदी अरब के शाह सलमान बिन अब्दुल अजीज अल सऊद के साथ द्विपक्षीय बैठक करेंगे.

बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी रियाद में होने वाले फ्यूचर इन्वेस्टमेंट इनिशिएटिव फोरम को संबोधित करेंगे. यहां वो भारत में ग्लोबल इन्वेस्टर के लिए व्यापार के बढ़ते अवसर और निवेश पर चर्चा करेंगे. रियाद में ये कार्यक्रम दावोस इन द डेजर्ट के नाम से मशहूर है. 2017 में शुरू हुए इस कार्यक्रम में सऊदी अरब में निवेश के अवसरों पर चर्चा होती है. भारत की सरकार देश की इकोनॉमी को 5 ट्रिलियन तक ले जाने कि दिशा में काम कर रही है. ऐसे में ये समिट काफी अहम हो जाता है.

इस दौरे की सबसे अहम बात होगी दोनों देशों के बीच स्ट्रैटेजिक पार्टनरशिप काउंसिल का गठन. इस काउंसिल के गठन से दोनों देशों के रिश्ते मजबूत होंगे. प्रधानमंत्री मोदी और सऊदी के किंग सलमान इस काउंसिल के गठन को लेकर बातचीत करेंगे. इस काउंसिल के जरिए दोनों देश अपनी स्टैटेजिक पार्टनरशिप के प्रोग्रेस को मॉनिटर करेंगे. (भाषा इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें : PM मोदी ने अरब न्यूज़ को दिया इंटरव्यू, सऊदी को लेकर जताई ये उम्मीदें 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 29, 2019, 1:38 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...