Home /News /world /

pm narendra modi addresses indian community in tokyo japan

आज की दुनिया को भगवान बुद्ध के बताए रास्ते पर चलने की जरूरत, जापान में भारतीय समुदाय से बोले पीएम मोदी

टोकियो में भारतीय समुदाय को संबोधित करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.

टोकियो में भारतीय समुदाय को संबोधित करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.

PM Modi in Japan: पीएम मोदी ने कहा, "जब भी मैं जापान आता हूं, तो मैं देखता हूं कि आपकी स्नेह वर्षा हर बार बढ़ती ही जाती है. आप में से कईं साथी अनेक वर्षों से यहां बसे हुए हैं."

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को भारत और जापान को स्वाभाविक साझेदार बताते हुए कहा कि भारत की विकास यात्रा में जापान की महत्वपूर्ण भूमिका रही है. टोक्यो में आयोजित एक कार्यक्रम में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि जापान से हमारा रिश्ता आत्मीयता का है, आध्यात्म का है, सहयोग का है, अपनेपन का है.

पीएम मोदी ने कहा कि आज की दुनिया को भगवान बुद्ध के विचारों पर, उनके बताए रास्ते पर चलने की बहुत जरूरत है. उन्होंने कहा, “यही रास्ता है जो आज दुनिया की हर चुनौती, चाहे वो हिंसा हो, अराजकता हो, आतंकवाद हो, क्लाइमेट चेंज हो, इन सबसे मानवता को बचाने का यही मार्ग है. भारत सौभाग्यशाली है कि उसे भगवान बुद्ध का प्रत्यक्ष आशीर्वाद मिला है. उनके विचारों को आत्मसात करते हुए भारत निरंतर मानवता की सेवा कर रहा है.”

इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना वायरस महामारी का उल्लेख किया और कहा कि चुनौतियां चाहे कितनी प्रकार की हो, कितनी बड़ी क्यों न हो, भारत उनका समाधान ढूंढता ही है. उन्होंने कहा, “कोरोना से दुनिया के सामने 100 साल का सबसे बड़ा संकट पैदा हुआ. ये जब शुरू हुआ तो किसी को पता नहीं था कि आगे क्या होगा. किसी को ये पता तक नहीं था कि इसकी वैक्सीन आएगी भी या नहीं आएगी. लेकिन भारत ने उस समय भी दुनिया के देशों को दवाएं भेजीं.”

भाषण की शुरुआत में पीएम मोदी ने भारतीय समुदाय से कहा, “जब भी मैं जापान आता हूं, तो मैं देखता हूं कि आपकी स्नेह वर्षा हर बार बढ़ती ही जाती है. आप में से कईं साथी अनेक वर्षों से यहां बसे हुए हैं. जापान की भाषा, वेशभूषा, संस्कृति और खानपान एक प्रकार से आपके जीवन का भी हिस्सा बन गया है.” उन्होंने कहा, “ये हम लोगों की विशेषता है कि हम कर्मभूमि से तन मन से जुड़ जाते हैं, खप जाते हैं. लेकिन मातृभूमि की जड़ों से जो जुड़ाव है, उससे कभी दूरी नहीं बनने देते हैं. यही हमारा सबसे बड़ा सामर्थ्य है.”

इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वामी विवेकानंद का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा, “विवेकानंद जी जब अपने ऐतिहासिक संबोधन के लिए शिकागो जा रहे थे उससे पहले वो जापान आए थे. जापान में उनके मन मस्तिष्क पर गहरा प्रभाव छोड़ा हुआ था. जापान के लोगों की देशभक्ति, जापान के लोगों का आत्मविश्वास, स्वच्छता के लिए जापान के लोगों की जागरूकता की उन्होंने खुलकर प्रशंसा की थी.”

टोक्यो में प्रवासी भारतीयों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कि हमारे क्षमता निर्माण में जापान एक अहम भागीदार है. उन्होंने कहा कि मुंबई-अहमदाबाद हाई स्पीड रेल हो, दिल्ली-मुंबई औद्योगिक गलियारा हो, समर्पित माल गलियारा हो, ये भारत-जापान के सहयोग के बहुत बड़े उदाहरण हैं. प्रधानमंत्री ने कहा कि हमने एक मजबूत और लचीले एवं जिम्मेदार लोकतंत्र की पहचान बनाई है और उसे बीते आठ साल में हमने लोगों के जीवन में सकारात्मक बदलाव का माध्यम बनाया है. मोदी ने कहा, “भारत में आज सही मायने में लोकोन्मुखी प्रशासन काम कर रहा है.”

Tags: Japan, Narendra modi

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर