लाइव टीवी

PNB धोखाधड़ी केस: भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी की हिरासत बढ़ी 27 फरवरी तक

News18Hindi
Updated: January 31, 2020, 9:03 AM IST
PNB धोखाधड़ी केस: भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी की हिरासत बढ़ी 27 फरवरी तक
भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी

भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी (Nirav Modi) को अदालत ने 27 फरवरी तक के लिए हिरासत में भेज दिया है. नीरव पंजाब नेशनल बैंक (PNB) के साथ करीब दो अरब डॉलर की कर्ज धोखाधड़ी और मनी लॉन्ड्रिंग मामलों में भारत में वांछित है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 31, 2020, 9:03 AM IST
  • Share this:
लंदन. भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी को गुरुवार को ब्रिटेन की वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट में रेग्यूलर सुनवाई के लिए पेश किया गया था. अदालत ने उसे 27 फरवरी तक के लिए हिरासत में भेज दिया है. नीरव मोदी पंजाब नेशनल बैंक के साथ करीब दो अरब डॉलर की कर्ज धोखाधड़ी और मनी लॉन्ड्रिंग मामलों में भारत में वांछित है. ब्रिटेन में उसके प्रत्यर्पण को लेकर सुनवाई चल रही है.

28 दिन बाद होगी सुनवाई
वैंड्सवर्थ कारागार में कैद नीरव मोदी जेल से वीडियो लिंक के जरिये डिस्ट्रिक्ट जज डेविड रोबिन्सन के सामने पेश हुआ. जज ने नीरव मोदी से कहा, "मुझे बताया गया कि आपका मामला 11 मई को अंतिम सुनवाई के निर्देशों के अनुसार आगे बढ़ रहा है." उन्होंने हिरासत में सुनवाई की अगली तारीख 28 दिन बाद 27 फरवरी निर्धारित की है. नीरव मोदी के प्रत्यर्पण पर सुनवाई 11 मई से शुरू होनी है और इसके करीब पांच दिन चलने का अनुमान है.

नीरव ने बताया मानसिक स्वास्थ्य ठीक नहीं



नीरव मोदी ने पिछले साल नवंबर में घर में नजरबंदी की गारंटी की पेशकश करते हुए जमानत की अर्जी लगायी थी. यह एक "अभूतपूर्व" पेशकश थी क्योंकि आतंकवाद के मामलों में संदिग्ध व्यक्तियों को इस प्रकार निरुद्ध किया जाता है. नीरव मोदी ने साथ ही यह भी दुहाई दी थी कि मार्च में गिरफ्तार किए जाने के बाद वैंड्सवर्थ जेल में सलाखों के पीछे रहते हुए उसका मानसिक स्वास्थ्य बिगड़ गया है.

भारत के लाने की पूरी कोशिश 
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के आरोपी नीरव मोदी के प्रत्यर्पण पर कहा कि हम उसे भारत लाने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा रहें है. उन्होंने कहा कि नीरव के खिलाफ अभी लंदन के वेस्टमिंस्टर कोर्ट में मुकदमा चल रहा है. वहीं पीएनबी घोटाले के एक अन्य अहम आरोपी मेहुल चोकसी पर उन्होंने कहा कि हमने एंटीगुआ और बारबुडा सरकारों से आग्रह किया है कि न्यायिक प्रक्रियाओं में तेजी लाएं जिससे उसे भारत लाए जाने की प्रक्रिया शुरू की जा सके.

ये भी पढ़ें: जांच में हुआ खुलासा, हिजबुल से 'सैलरी' लेता था बर्खास्त DSP दविंदर सिंह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 31, 2020, 9:03 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर