लाइव टीवी

PoK में रैली निकाल रहे लोगों को पुलिस ने बेरहमी से पीटा, दो की मौत, 80 से ज्यादा घायल

News18Hindi
Updated: October 23, 2019, 9:07 AM IST
PoK में रैली निकाल रहे लोगों को पुलिस ने बेरहमी से पीटा, दो की मौत, 80 से ज्यादा घायल
पाकिस्तान के मुजफ्फराबाद में रैली निकाल रहे लोगों पर लाठीचार्ज करती पुलिस.

पीओके (PoK) में हुई इस रैली का आयोजन स्वतंत्र राजनीतिक पार्टियों के संगठन ऑल इंडीपेंडेंट पार्टीज अलायंस (AIPA) ने किया था. पीओके के लोगों को पाकिस्तान (Pakistan) से आजादी दिलाने की मांग यह रैली निकाली गई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 23, 2019, 9:07 AM IST
  • Share this:
मुजफ्फराबाद. पाकिस्तान (Pakistan) के कब्जे वाले कश्मीर की राजधानी मुजफ्फराबाद (Muzaffarabad) में राजनीतिक दलों पर पुलिस ने एक बार फिर लाठीचार्ज किया. पुलिस की ओर से किए गए लाठीचार्ज में दो नागरिकों की मौत हो गई, जबकि 80 से ज्यादा लोग घायल हो गए. पीओके (PoK) में हुई इस रैली का आयोजन स्वतंत्र राजनीतिक पार्टियों के संगठन ऑल इंडीपेंडेंट पार्टीज अलायंस (एआईपीए) ने किया था. इस रैली का मकसद पीओके के लोगों को आजादी दिलाने की मांग करना था.




पाकिस्तान सेना ने 22 अक्टूबर 1947 को जम्मू-कश्मीर के कुछ इलाकों में जबरन घुसकर उस पर अपना कब्जा जमा लिया था. इस घुसपैठ की 72वीं वर्षगांव पर लेागों ने बड़ी संख्या में विरोध प्रदर्शन किया. राजनीति पार्टी इस दिन को काला दिवस के रूप में मनाते हैं. बताया जाता है कि मुजफ्फराबाद राजनीतिक दलों की रैली में लाठी बरसाने के बाद पुलिस ने यहां के प्रेस क्लब में छापा मारा. इस दौरान कई पत्रकारों को भी चोट पहुंची है. पत्रकारों का आरोप है कि उनको जानबूझ कर पीटा गया है और उनके कैमरे व अन्य उपकरणों को पुलिस ने तोड़ दिया है.

इसे भी पढ़ें :-भारतीय सेना ने PoK में टेरर कैंप्स किए तबाह, जैश और हिजबुल के 35 आतंकी ढेर, 6 पाक सैनिक की भी मौत
Loading...

पुलिस ने यह छापेमारी उस वक्त की जब यहां जम्मू-कश्मीर पीपल्स नेशनल एलाइंस की पत्रकार वार्ता चल रही थी. मुजफ्फराबाद में एक दिन में यह दूसरी घटना है, जिसमें पाकिस्तान पुलिस का बर्बर चेहरा देखने को मिला है. प्रेस वार्ता में जेकेपीएनए ने गुरुवार को लंदन में पाकिस्तानी हाई कमीशन के गेट के सामने धरना देने की धमकी दी थी.



रैली में लाठी बरसाने का वीडियो आया सामने
रैली में लाठी बरसाने का एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें दिख रहा है कि पुलिस रैली में आए लोगों को दौड़ा-दोड़ा कर पीट रही है और फायरिंग कर रही है. पीओके के मुजफ्फराबाद में मंगलवार को गिलगिट बाल्टिस्तान के लोग मंगलवार को पाकिस्तान सरकार से खुद की आजादी मांग रहे थे. इसके लिए रैली में एकत्र हुए लोग काला दिवस मना रहे थे, तभी पुलिस ने उन पर लाठी चार्ज किया.

इसे भी पढ़ें :- भारत के खिलाफ बड़ी साजिश रच रहा पाकिस्तान! LoC की तरफ भेजे कई टैंक, कमांडो किए तैनात- सूत्र

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 23, 2019, 7:49 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...