पुलिस ने युवक की ली जान, उसने 22 सेकेंड में 7 बार कहा- मेरा दम घुट रहा है

पुलिस ने युवक की ली जान, उसने 22 सेकेंड में 7 बार कहा- मेरा दम घुट रहा है
प्रतीकात्मक तस्वीर

फ्रांस की पुलिस ने सामान की डिलीवरी करने वाले ड्राइवर को गिरफ्तार करने के बाद उसे जमीन पर कई बार पटका जिसके चलते उसकी मौत हो गई. ड्राइवर पुलिस अधिकारियों से कहता रहा-मेरा दम घुट रहा है

  • Share this:
पेरिस. अमेरिका में पुलिस द्वारा जॉर्ज फ्लॉयड (George Floyd) की हत्या का शोर अभी थमा भी नहीं था कि फ्रांस की राजधानी पेरिस में भी पुलिस की बर्बरता (Barbarian Behaviour Of Police) का एक नमूना सामने आया है. फ्रांस की पुलिस ने एक सामान की डिलीवरी करने वाले ड्राइवर को गिरफ्तार करने के बाद उसे जमीन पर कई बार पटका जिसके चलते उसकी मौत हो गई. ड्राइवर पुलिस अधिकारियों के सामने जान बख्शने की भीख मांगता रहा. वह बार-बार पुलिस वालों से कहता रहा-मेरा दम घुट रहा है (I m suffocating).

पेरिस में हुई घटना

इस घटना की सीसीटीवी फुटेज के अनुसार 42 वर्षीय सेडरिक शोवियाट (Cédric Chouviat) ने 22 सेकेंड में सात बार सांस नहीं ले पाने की बात कही लेकिन इसके बावजूद पुलिस अधिकारी उसे जमीन पर पटखनी देते रहे. पेरिस में जनवरी महीने में एफिल टावर के पास गिरफ्तार किए गए युवक की अनैच्छिक हत्या के मामले में चार पुलिस अधिकारियों से सवाल-जवाब किए गए हैं. इस मामले में अमेरिका में 25 मई को हुई जॉर्ज फ्लॉयड की हत्या की अनुगूंज सुनाई पड़ती है. फ्लॉयड की मौत के बाद अमेरिका सहित दुनिया के अन्य मुल्क में काले लोगों की जिंदगी मायने रखती है, घोर विरोध-प्रदर्शन शुरू हो गए.



पुलिस ने कहा- गिरफ्तार देने से कर रहा था मना
पुलिस ने बताया कि उन्होंने शोवियाट को स्कूटर पर जाते हुए रोका था. शोवियाट स्कूटर चलाते समय मोबाइल फोन की स्क्रीन की ओर देख रहा था. उसका लाइसेंस प्लेट बहुत ही गंदा था. अधिकारियों का कहना है कि वह बहुत ही बदतमीजी से पेश आ रहा था. वह गंदी-गंदी गालियां दे रहा था और गिरफ्तारी से मना कर रहा था.

ये भी पढ़ें: कोरोना काल में फिट रहने के लिए करें 'हॉट योग', देखें VIDEO

एक मां से पैदा हुईं तीन संतानें, तीनों बच्चे भी कोरोना पॉजिटिव मिले

अपराध शोध के लिए काम करने वाली संस्था नेशनल जेंडारमेरी ने यह पाया कि पुलिस और डिलीवरी ड्राइवर के बीच बहस हुई थी और अधिकारियों ने उसके व्यवहार को चिढ़ाने वाला और निडर पाया था.
इस घटना की टेप और फुटेज की छानबीन करने वालों ने बताया कि पुलिस और शोवियाट के बीच 9 मिनट और 44 सेकेंड की बहस के बाद दृश्य बदल गया और इसके बाद शोवियाट ने पुलिस अधिकारियों को कई बार मूर्ख कहा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज