मेहुल चोकसी मामले में डोमिनिका में सियासत जारी, पीएम रूजवेल्ट स्किरिट को विपक्ष ने घेरा

डोमिनिका संसद में विपक्ष के नेता लेनक्स लिंटन ने चोकसी को डोमिनिका लाए हालात की 'पूरी जांच' की मांग की है. (फाइल फोटो)

डोमिनिका संसद में विपक्ष के नेता लेनक्स लिंटन ने चोकसी को डोमिनिका लाए हालात की 'पूरी जांच' की मांग की है. (फाइल फोटो)

Mehul Choksi Case: मेहुल चोकसी रहस्यमयी तरीके से एंटीगा और बारबुडा से गायब हो गया था. बाद में डोमिनिका (Dominica) पुलिस ने उसे द्वीप पर अवैध तरीके से घुसने के आरोप में हिरासत में ले लिया था.

  • Share this:

नई दिल्ली. भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी को लेकर डोमिनिका में भी सियासत गरमा गई है. सोमवार को देश के प्रमुख विपक्षी दल ने प्रधानमंत्री रूजवेल्ट स्किरिट (Roosevelt Skerrit) पर कानून के खिलाफ काम करने के आरोप लगाए हैं. इससे पहले एंटीगा के प्रधानमंत्री गेस्टन ब्राउन (Gaston Browne) पर भी विपक्षी दलों ने निशाना साधा था. एंटीगा से गायब होने के बाद चोकसी को डोमिनिका में पकड़ा गया था.

डोमिनिका संसद में विपक्ष के नेता लेनक्स लिंटन ने चोकसी को जिन हालात में डोमिनिका लाया गया है, उसकी 'पूरी जांच' की मांग की है. उन्होंने इसे डोमिनिका, एंटीगा और भारत की मिलीभगत बताया है. उन्होंने चोकसी को अमानवीय तरीके से डोमिनिका भेजे जाने के आदेश जारी करने वाले अधिकारियों के खिलाफ भी जांच किए जाने की मांग की है.

सोमवार को डोमिनिका के प्रमुख विपक्षी दल की तरफ से जारी बयान में स्किरिट पर ब्राउन के साथ शामिल होने का आरोप लगाया है. एंटीगा में ब्राउन के खिलाफ भी विपक्षी दल हमलावर है. उनकी सरकार पर चोकसी के देश से गायब होने में शामिल होने के आरोप लग रहे हैं. वहीं, ब्राउन ने कई मौकों पर कहा है कि डोमिनिका को चोकसी को एंटीगा के बजाए भारत भेजना चाहिए.

यह भी पढ़ें: नीरव मोदी, माल्या और चोकसी ही नहीं, भारत को है इन 300 भगोड़ों की तलाश
रविवार को चोकसी रहस्यमयी तरीके से एंटीगा और बारबुडा से गायब हो गया था. हालांकि, मंगलवार रात को डोमिनिका पुलिस ने उसे द्वीप पर अवैध तरीके से घुसने के आरोप में हिरासत में ले लिया था. खास बात है कि दोनों द्वीपों में कुछ किमी की ही दूरी है. चोकसी की लीगल टीम ने आरोप लगाया था कि उसे एंटीगा से अपहरण कर डोमिनिका ले जाया गया है. इस काम में भारतीय और एंटीगा के अधिकारी शामिल हैं.


सोमवार को भगोड़े कारोबारी के वकील विजय अग्रवाल ने बताया था कि चोकसी को महिला ने हनी ट्रैप के जरिए फंसाया था. वकील के मुताबिक, चोकसी उस महिला को बीते 6 महीने से जानता था और जब वो उसके घर गया, तो उसका अपहरण कर याट के जरिए डोमिनिका ले जाया गया. फिलहाल कैरेबियाई सुप्रीम कोर्ट में याचिका पर सुनवाई की जा रही है. अदालत बुधवार को मामले पर सुनवाई करेगी, उस दौरान भारत चोकसी के देश लाने की मांग रखेगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज