लाइव टीवी
Elec-widget

नागासाकी पहुंचे पोप फ्रांसिस, परमाणु हथियारों को लेकर कही ये बड़ी बात

News18Hindi
Updated: November 24, 2019, 11:07 AM IST
नागासाकी पहुंचे पोप फ्रांसिस, परमाणु हथियारों को लेकर कही ये बड़ी बात
पोप फ्रांसिस फ्रांसिस जापान की यात्रा की शुरुआत में नागासाकी और हिरोशिमा गए.

द्वितीय विश्वयुद्ध (World War II) के दौरान अमेरिका ने नागासाकी (Nagasaki) और हिरोशिमा में परमाणु बम (Nuclear Bombs) गिराए थे. इन परमाणु हमलों में क्रमश: 74 हजार और 1.40 लाख लोग मारे गए थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 24, 2019, 11:07 AM IST
  • Share this:
नागासाकी. नागासाकी. पोप फ्रांसिस (Pope Francis) ने विश्व के नेताओं से परमाणु हथियारों (Nuclear Weapons) की निंदा करने की अपील करते हुए रविवार को कहा कि हथियारों की दौड़ से सुरक्षा कमजोर होती है, संसाधनों की बर्बादी होती है और मानवता के विनाश का खतरा पैदा होता है. द्वितीय विश्वयुद्ध (World War II) के दौरान अमेरिका ने नागासाकी (Nagasaki) और हिरोशिमा (Hiroshima) में परमाणु बम (Nuclear Bombs) गिराए थे. इन परमाणु हमलों में क्रमश: 74 हजार और 1.40 लाख लोग मारे गए थे. इस दौरान फ्रांसिस ने बारिश के बीच पीड़ितों के स्मारक पर जाकर उन्हें पुष्पांजलि अर्पित की.

उन्होंने कहा कि यह स्थान इस बात की याद दिलाता है कि मनुष्य एक दूसरे का कितना विनाश करने में सक्षम है. फ्रांसिस ने कहा, परमाणु हथियारों के बिना दुनिया संभव और आवश्यक है. मैं नेताओं से अपील करता हूं कि वे इस बात को न भूलें कि परमाणु हथियार हमारी राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा को मौजूदा खतरों से हमारी रक्षा नहीं कर सकते. फ्रांसिस जापान की यात्रा की शुरुआत में नागासाकी और हिरोशिमा गए.

इसे भी पढ़ें :- इमरान खान का तंज- बीमारी का बहाना बनाकर भाग गए नवाज़ शरीफ

उन्होंने कहा कि परमाणु हथियारों को एकत्र करने से सुरक्षा का झूठा एहसास होता है और ईरान एवं उत्तर कोरिया के परमाणु खतरे को लेकर चिंताओं के दौर में ये हथियार वैश्विक शांति को नुकसान पहुंचाते हैं. फ्रांसिस ने कहा कि शांति और अंतरराष्ट्रीय स्थिरता एकजुटता एवं सहयोग की वैश्विक नैतिकता के बल पर ही हासिल की जा सकती है.

इसे भी पढ़ें :- अमेरिकी सांसद ने कहा, इस्लामी आतंकवादी जम्मू-कश्मीर सहित पूरे भारत में फैला रहे आतंकवाद

पोप ने वीडियो के जरिए जापान के लोगों को दिया संदेश
जापान परमाणु हमले की विभीषिका झेलने वाला विश्व का अब तक का एकमात्र देश है. पोप ने वैटिकन से रवाना होने से पहले जापानी लोगों के नाम एक वीडियो संदेश में कहा था, आपके साथ, मैं प्रार्थना करता हूं कि मानव इतिहास में कभी परमाणु हथियारों की विध्वंसक शक्ति का इस्तेमाल न हो. पोप थाईलैंड से जापान पहुंचे हैं. थाईलैंड में उन्होंने धार्मिक सहिष्णुता और शांति का संदेश दिया.
Loading...

इसे भी पढ़ें :- 2 फीट लंबे पाकिस्तानी को मिली 6 फीट की खूबसूरत दुल्हन, वायरल हो गया शादी में डांस का Video

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 24, 2019, 11:07 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...