लाइव टीवी

कोरोना वायरस पर वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान स्क्रीन पर चलने लगी पॉर्न फिल्म

News18Hindi
Updated: April 1, 2020, 5:06 PM IST
कोरोना वायरस पर वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान स्क्रीन पर चलने लगी पॉर्न फिल्म
पॉर्न साइट देखने वालों पर साइ​बर ठग रख रहे हैं नजर.

न्यूयॉर्क(New York) के लोगों ने शिकायत की है कि वीडियो कॉन्फ्रेंस (Video Conference) के दौरान उनके कॉन्फ्रेंस को हैक कर लिया गया और स्क्रीन पर अपनेआप पॉर्न (porn) पिक्चर चलने लगी.

  • Share this:
न्यूयॉर्क: अमेरिका (America) में कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण से बचने के लिए काफी लोग क्वारेंटाइन में रह रहे हैं. इस दौरान कामकाजी लोग वीडियो कॉन्फ्रेंस (Video Conference) के जरिए एकदूसरे से बात रहे हैं और अपने काम निपटा रहे हैं. लेकिन पिछले दिनों ऐसी कई शिकायतें आई हैं कि वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान अपनेआप स्क्रीन पर पॉर्न चलने लगा.

डेली मेल की एक रिपोर्ट के मुताबिक न्यूयॉर्क के लोगों ने शिकायत की है कि वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान उनके कॉन्फ्रेंस को हैक कर लिया गया और स्क्रीन पर अपनेआप पॉर्न पिक्चर चलने लगी. कुछ लोगों ने वीडियो में हेट स्पीट और धमकाने वाले भाषण चलने की बात कही है.

ज़ूम ऐप के वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान चला पॉर्न
अमेरिका में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के लिए ज़ूम ऐप का काफी इस्तेमाल होता है. इसी ऐप पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान पॉर्न पिक्चर चलने की बात सामने आई है. लोगों की मीटिंग के बीच में स्क्रीन पर पॉर्न कैसे चलने लगा, इस बात की जांच अब एफबीआई कर रही है.



न्यूयॉर्क के अटार्नी जनरल लेटिटिया जेम्स ने ज़ूम कंपनी को खत लिखकर जवाब मांगा है कि वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान पॉर्न पिक्चर कैसे चल गई. अटार्नी जनरल ने कहा है कि ये लोगों की प्राइवेसी और सुरक्षा के साथ खिलवाड़ है. कंपनी इस बारे में पता करे कि आखिर चूक कहां हुई है.



अटार्नी जनरल का ऑफिस ज़ूम कंपनी के साथ मिलकर इस मामले की जांच कर रहा है. इस मामले की जानकारी तब हुई, जब एफबीआई के बोस्टन ऑफिस ने चेतावनी जारी की कि कुछ लोगों ने वीडियो कॉनफ्रेंस के दौरान पॉर्न, हेट स्पीच और धमकाने वाले भाषण चलने की शिकायत की है.

एफबीआई ने ज़ूम ऐप को हैक करने वाले दो मामले पकड़े
एफबीआई ने ऐसे दो मामलों को पकड़ा है. एक मामले में ऑनलाइन पढ़ाई के दौरान पॉर्न चलने की खबर सामने आई है. कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से अमेरिका के स्कूल बंद हैं. कई स्कूल अपने छात्रों को ऑनलाइन पढ़ाई करवा रहे हैं. मैसाचुसेट्स हाई स्कूल में ऑनलाइन पढ़ाई के दौरान एक हैकर ने वर्चुअल क्लासरूम को हैक कर लिया. हैकर्स पढ़ाने वाले टीचर्स को चिढ़ाने लगे और उनके घर का पता बताकर उन्हें धमकाने लगे.

एक और स्कूल ने इस तरह की शिकायत की है. इसमें कहा गया है कि ऑनलाइन सेशन के दौरान स्वास्तिक के टैटू वाले एक शख्स ने उन्हें परेशान किया.

इस बात की जानकारी सामने आने के बाद सोशल मीडिया पर भी कमेंट्स की बाढ़ आ गई. सोशल मीडिया पर कई यूजर्स ने बताया कि वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान उनके स्क्रीन पर अपनेआप पॉर्न चलने लगा. कई यूजर्स ने शिकायत की कि ऐप को हैक करके हैकर्स नस्लीय टिप्पणियां करने लगे.

एफबीआई ने कहा वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान स्क्रीन शेयर न करें
एफबीआई की तरफ से अब कहा गया है कि ज़ूम ऐप का इस्तेमाल करते वक्त यूजर्स अपने मीटिंग को प्राइवेट रखें और किसी के भी साथ स्क्रीन शेयर करने से बचें. सिलिकॉन वैली स्थित ज़ूम कंपनी की तरफ से कहा गया है कि वो यूजर्स की प्राइवेसी और सिक्योरिटी को लेकर काफी गंभीर हैं और ऐसे मामलों की छानबीन की जा रही है.

कोरोना वायरस के संक्रमण के दौरान ज़ूम ऐप का काफी इस्तेमाल किया जा रहा है. यूनिवर्सिटीज, स्कूल और दूसरे बिजनेस वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए एकदूसरे से जुड़कर अपना कामकाज कर रहे हैं

ये भी पढ़ें:

कोरोना: हॉस्पिटल के कॉरीडोर करना पड़ रहा इलाज, वेंटिलेटर्स की भीख मांग रहे हैं डॉक्टर्स

अमेरिका को कोरोना संकट से उबारने को बिल गेट्स ने दिया मंत्र, इन तीन खास चीजों पर जोर देने की मांग

कोरोना संकट से दोराहे पर दुनिया, आखिर पहले किसे बचाएं!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अमेरिका से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 1, 2020, 4:54 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading