लाइव टीवी

अब डोनाल्ड ट्रंप ने की मांग- सीनेटर मिट रोमनी के खिलाफ चलाया जाए महाभियोग

भाषा
Updated: October 6, 2019, 11:49 AM IST
अब डोनाल्ड ट्रंप ने की मांग- सीनेटर मिट रोमनी के खिलाफ चलाया जाए महाभियोग
ट्रंप ने एक और ट्वीट किया, 'डेमोक्रेट न केवल 2020 के चुनाव में हस्तक्षेप कर रहे हैं, बल्कि 2016 के चुनाव को लेकर भी उन्होंने ऐसा ही प्रयास किया.'

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ( Donald Trump) ने शनिवार को ट्वीट कर कहा कि उन्होंने सुना है कि उटा के लोगों को लग रहा है कि अंहकारी सीनेटर मिट रोमनी को वोट देकर उन्होंने बड़ी गलती. मिट रोमनी के खिलाफ महाभियोग चलाया जाना चाहिये.

  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ( Donald Trump) ने अपने कटु आलोचक एवं रिपब्लिक पार्टी के सीनेटर मिट रोमनी ( Mitt Romney) के खिलाफ महाभियोग चलाने की अपील की है. रोमनी ने 2016 के राष्ट्रपति चुनाव के दौरान ट्रंप को धोखेबाज कहा था और यूक्रेन मुद्दे को संभालने को लेकर उनकी आचोलना की थी.

ट्रंप ने शनिवार को ट्वीट किया, 'मैंने सुना है कि उटा के लोगों को लग रहा है कि अंहकारी सीनेटर मिट रोमनी को वोट देकर उन्होंने बड़ी गलती. मैं इससे सहमत हूं! वह एक मूर्ख व्यक्ति हैं. मिट रोमनी के खिलाफ महाभियोग चलाया जाना चाहिये.' ट्रंप ने एक और ट्वीट किया, 'डेमोक्रेट न केवल 2020 के चुनाव में हस्तक्षेप कर रहे हैं, बल्कि 2016 के चुनाव को लेकर भी उन्होंने ऐसा ही प्रयास किया.'

सीनेटर मिट रोमनी


ट्रंप ने पूर्व उपराष्ट्रपति जो बाइडेन के खिलाफ जांच का किया था अनुरोध

गौरतलब है कि ट्रंप ने चीन और यूक्रेन से पूर्व उपराष्ट्रपति जो बाइडेन के खिलाफ जांच का अनुरोध किया था, जिसे लेकर रोमनी ने शुक्रवार को ट्रंप की आलोचना की थी. रोमनी ने ट्वीट किया था कि चीन और यूक्रेन से बाइडेन के खिलाफ जांच का राष्ट्रपति का अनुरोध गलत और भयावह है.

बता दें कि राष्ट्रपति ट्रंप आरोप है कि उन्होंने अपने राजनीतिक प्रतिद्वंदी जो बाइडेन की छवि बिगाड़ने के लिए यूक्रेन की अमेरिकी सैन्य सहायता बंद करने की बात कहीं है. अब ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. हालांकि ट्रम्प ने इन आरोपों से इनकार किया है. उन्होंने आधिकारिक महाभियोग जांच शुरू करने के बाद अपने पहले संवाददाता सम्मेलन में कहा कि वे मेरे पीछे हाथ धोकर पड़ गए हैं.

महाभियोग की जांच का आधार गलत
Loading...

ट्रंप ने कहा कि महाभियोग की जांच का आधार गलत है. क्योंकि आपकी किसी से अच्छी बैठक या फोन पर अच्छी बातचीत हुई है? ट्रम्प ने कहा कि उन्होंने यूक्रेन पर कोई दबाव नहीं बनाया. जेलेंस्की ने भी यही दावा किया है. वहीं महाभियोग की प्रक्रिया के तहत ट्रंप को पद से हटाने के किसी भी प्रयास के लिए 20 रिपब्लिकन सांसदों की जरूरत होगी.

उल्लेखनीय है कि अभी तक अमेरिकी राजनीतिक इतिहास में किसी भी राष्ट्रपति को महाभियोग के जरिए नहीं हटाया गया है. बताया जा रहा है कि निचले सदन में 145 से 235 डेमोक्रेट्स महाभियोग के समर्थन में हैं. हालांकि, महाभियोग की प्रक्रिया यहां पूरी हो भी जाती है तो इसका रिपब्लिकन के बहुमत वाले सीनेट से पास होना मुश्किल है.

ये भी पढ़ें: 

J&K पर इमरान खान के दावे पर पूछा गया सवाल तो बौखला गए शाह महमूद कुरैशी, VIDEO

पाक की राजनीति में हो रही है मुशर्रफ की वापसी, इमरान का हो सकता है नुकसान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 6, 2019, 11:20 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...