डोनाल्ड ट्रंप ने फिर दी धमकी, प्रदर्शनकारी न्यूयॉर्क की सड़कों को खाली करें वर्ना...

डोनाल्ड ट्रंप ने फिर दी धमकी, प्रदर्शनकारी न्यूयॉर्क की सड़कों को खाली करें वर्ना...
मिनेयापोलिस में पुलिस को भंग करने पर सिटी काउंसिल सहमत

ट्रंप पहले प्रदर्शनकारियों को विद्रोह अधिनियम लागू करने की धमकी दे चुके हैं. यह काफी पुराना कानून है, जो राष्ट्रपति को देश में हो रही घरेलू हिंसा को खत्म करने के लिए अमेरिकी सेना को भेजने का अधिकार देता है.

  • Share this:
वॉशिंगटन. अमेरिका (America) में अश्वेत अमेरिकी जॉर्ज फ्लॉयड (George Floyd Death) की मौत के मामले में अभी भी लोगों का गुस्सा शांत होता नहीं दिखाई दे रहा है. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने न्यूयॉर्क शहर के नेताओं को फटकार लगाते हुए कहा है कि वह न्यूयॉर्क की सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों को जल्द से जल्द हटाए वर्ना अंजाम बुरा हो सकता है. उन्होंने सोमवार को भी प्रदर्शनकारियों पर विद्रोह ​अधिनियम लागू करने की धमकी दी थी.

व्हाइट हाउस के पूर्व प्रेस सचिव सियान स्पाइसर ने एक साक्षत्कार के दौरान कहा कि ट्रंप ने न्यूयॉर्क के बारे में कहा है कि अगर प्रदर्शनकारियों को जल्द से जल्द काबू में नहीं किया गया तो वह आने वाले वक्त में इस बात का ध्यान रखेंगे. इस दौरान जब उनसे पूछा गया कि क्या प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए ट्रंप अमेरिकी सेना को तैनात करेंगे तो उन्होंने कहा, मुझे नहीं लगता कि ऐसा करने का समय आएगा. गौरतलब है कि ट्रंप पहले प्रदर्शनकारियों को विद्रोह अधिनियम लागू करने की धमकी दे चुके हैं. यह काफी पुराना कानून है, जो राष्ट्रपति को देश में हो रही घरेलू हिंसा को खत्म करने के लिए अमेरिकी सेना को भेजने का अधिकार देता है.

बता दें कि व्हाइट हाउस के रोज गार्डन ने देश को संबोधित करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ट ट्रंप ने कहा कि अगर कोई शहर या फिर राज्य वहां के लोगों की जिंदगी और संपत्ति की रक्षा के लिए आवश्यक कार्रवाई करने से इनकार करता है तो मैं अमेरिकी सेना को तैनात करूंगा और उनकी समस्या का जल्द समाधान निकालूंगा.



इसे भी पढ़ें :- अमेरिका के 40 राज्यों में प्रदर्शन जारी, फ्लॉयड की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट- सांस नहीं ले पाने से हुई मौत



40 राज्यों के 150 शहरों में चल रहा है प्रदर्शन
अमेरिका के 40 राज्यों और 150 से ज्यादा शहरों में अश्वेत अमेरिकी जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस कार्रवाई में हुई मौत के खिलाफ प्रदर्शन चल रहे हैं. बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी वाशिंगटन डीसी की सड़कों पर आ गए और व्हाइट हाउस के पास प्रदर्शन करने लगे. स्थिति बिगड़ती देख राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने वाशिंगटन की सुरक्षा व्यवस्था सेना और नेशनल गार्ड्स को सौंप दी है. उधर जॉर्ज फ्लॉयड के परिवार के लिए किए गए पोस्टमार्टम में पाया गया है कि उनकी मौत गले और पीठ पर दबाव के कारण सांस नहीं ले पाने के कारण ही हुई थी.अमेरिका में जारी प्रदर्शन में 4000 से ज्यादा गिरफ्तार हुए हैं जबकि झड़प में 5 लोगों की मौत हो गई है.

इसे भी पढ़ें :-
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading