केरल की प्रियंका राधाकृष्णन ने किया भारत का नाम रौशन, न्यूजीलैंड में बनीं मंत्री

प्रियंका राधाकृष्णन (फाइल फोटो)
प्रियंका राधाकृष्णन (फाइल फोटो)

हाल ही में न्यूजीलैंड (New Zealand) की मंत्री बनी प्रियंका राधाकृष्णन (Priyanka Radhakrishnan) इस समय चर्चा में हैं. वह पहली भारतीय हैं जिन्होंने न्यूजीलैंड के मंत्रिमंडल में जगह पाई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 3, 2020, 5:21 PM IST
  • Share this:
तिरुवनंतपुरम. भारत के केरल (Kerala) की प्रियंका राधाकृष्णन (Priyanka Radhakrishnan) ने सोमवार को न्यूजीलैंड में मंत्री के रूप में पद की शपथ ली है. वह पहली भारतीय हैं जिन्होंने न्यूजीलैंड के मंत्रिमंडल में जगह पाई है. प्रधानमंत्री जैकिंडा अर्डर्न ने अपना नया मंत्रिमंडल बनाया है जिसमें प्रियंका राधाकृष्णन को शामिल किया है. 41 वर्षीय राधाकृष्णन ने सामुदायिक और स्वैच्छिक क्षेत्र मंत्री के रूप में शपथ ली है. वह चेन्नई में पैदा हुईं और सिंगापुर में पली-बढ़ीं. उनके दादा कोच्चि में एक चिकित्सा पेशेवर थे और कम्युनिस्ट भी थे.

वह पढ़ाई करने के लिए न्यूजीलैंड आईं थी और 2004 से लेबर पार्टी के जरिए सक्रिय राजनीति में हैं. वह ऑकलैंड से दो बार सांसद रह चुकी हैं. पिछले ओणम के मौके पर वे अर्डर्न के साथ लाइव आईं और उन्होंने इस त्योहार की शुभकामनाएं दीं, इसके बाद से वे केरल के घर-घर में जानी जाने लगीं थीं. राधाकृष्णन को मलयालम गीत बेहद पसंद है और उनके पसंदीदा गायक केरल के लोकप्रिय गायक येसुदास हैं.





ये भी पढ़ें: जानिए न्यूजीलैंड के हालिया चुनाव में कौन सा भारतीय जीता है
डॉक्टर गौरव शर्मा बने सांसद
बता दें, हाल ही में न्यूज़ीलैंड की संसद में एक भारतीय बतौर सांसद पहुंचा है. हिमाचल प्रदेश से ताल्लुक रखने वाले डॉक्टर गौरव शर्मा को हैमिल्टन क्षेत्र से चुनाव जीतने के बाद संसद सदस्य होने का गौरव मिला है. उम्र के चौथे दशक में डॉ. शर्मा करीब 20 साल पहले न्यूज़ीलैंड शिफ्ट हुए थे. मेडिसिन और सर्जरी में बैचलर की डिग्री हासिल करने के बाद खुद की प्रैक्टिस करने वाले शर्मा ने लेबर पार्टी के प्रत्याशी के तौर पर चुनाव जीता है. न्यूज़ीलैंड के चुनाव आयोग के मुताबिक शर्मा को कुल 16,950 वोट मिले और उन्होंने 4425 वोटों के अंतर से नेशनल पार्टी के उम्मीदवार टिम मैसिनडो को हराया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज