लाइव टीवी

तुर्की समर्थक विद्रोहियों ने सीरिया में 9 लोगों को मौत के घाट उतारा : संस्था

भाषा
Updated: October 13, 2019, 10:00 AM IST
तुर्की समर्थक विद्रोहियों ने सीरिया में 9 लोगों को मौत के घाट उतारा : संस्था
सीरिया में 9 लोगों की मौत

तुर्की समर्थक विद्रोहियों ने सीरिया (Syria) में 9 लोगों की तल अब्याद कस्बे के दक्षिण में अलग-अलग जगह पर हत्या कर दी गई. कुर्द लड़ाकों का कहना है कि मारे गए लोगों में कुर्दी नेता हेवरिन खलाफ और उनका चालक भी शामिल है.

  • Share this:
बेरूत. पूर्वोत्तर सीरिया (Syria) में कुर्द लड़ाकों के नियंत्रण वाले क्षेत्र में तुर्की (Turkey) की सैन्य कार्रवाई में शनिवार को एक महिला नेता समेत कम से कम 9 नागरिकों को मौत के घाट उतार दिया गया. संघर्ष पर नजर रखने वाली संस्था सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स (Syrian Observatory for Human Rights) ने यह जानकारी दी. संस्था ने कहा कि 9 नागरिकों की तल अब्याद कस्बे के दक्षिण में अलग-अलग मौकों पर हत्या कर दी गई. कुर्द लड़ाकों का कहना है कि मारे गए लोगों में कुर्दी नेता हेवरिन खलाफ और उनका चालक भी शामिल है.

कुर्द लड़ाकों की अगुवाई वाले सीरियन डेमोक्रेटिक फोर्सेज (Syrian Democratic Forces) की राजनीतिक शाखा ने एक बयान में बताया कि 35 वर्षीय खलाफ को तुर्की समर्थित हमले के दौरान उनकी कार से बाहर निकाला गया और तुर्की का समर्थन कर रहे लड़ाकों ने उनकी हत्या कर दी. शाखा ने कहा कि यह इस बात का साफ-साफ प्रमाण है कि तुर्की निहत्थे नागरिकों के प्रति अपनी आपराधिक नीति जारी रखे हुए है.

बता दें कि खलाफ फ्यूचर सीरिया पार्टी की महासचिव थीं. कुर्द राजनीति के विशेषज्ञ मुतलु सिविरोगलु ने उनकी मौत को बड़ी क्षति बताया है. कुर्द कार्यकर्ताओं ने इन हत्याओं के दो वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट किए हैं जिसकी संस्था ने पुष्टि भी की है. ऑब्जर्वेटरी के मुताबिक इन हत्याओं के साथ ही हमले की शुरुआत से सीरिया में अब तक कम से कम 38 आम लोग मारे जा चुके हैं. शनिवार देर रात सीरियन नेशनल आर्मी ने कहा कि अनुचित व्यवहार करने वालों पर कड़े प्रतिबंध लगाए जाएंगे और सैन्य अवज्ञा के लिए कानून के समक्ष लाया जाएगा.

सीरिया से अमेरिकी सेना के हटते ही तुर्की लगातार सीरिया में हमला कर रहा है और कुर्दिश लड़ाकों को निशाना बना रहा है. गौरतलब है कि बीते दिनों अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सीरिया से अमेरिकी सेना को वापस बुलाने का ऐलान किया था. मंगलवार-बुधवार से ही सीरिया के कुछ क्षेत्रों से अमेरिकी सेना वापस आने लगी और तुरंत सीरिया की सेना ने वहां मौजूद कुर्दिश के लड़ाकों पर हमला बोलना शुरू कर दिया. खुद तुर्की के राष्ट्रपति तैयप एद्रोगन ने ट्विटर पर इन हमलों का ऐलान किया था.

ये भी पढ़ें : सीरिया में तुर्की के हमले की अरब देशों के विदेश मंत्रियों ने निंदा की

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 13, 2019, 10:00 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...