होम /न्यूज /दुनिया /इटली: corona को लेकर पीएम ग्यूसेप कोंटे से 3 घंटों तक सवाल-जवाब, प्रधानमंत्री बोले- मैं सब बताउंगा

इटली: corona को लेकर पीएम ग्यूसेप कोंटे से 3 घंटों तक सवाल-जवाब, प्रधानमंत्री बोले- मैं सब बताउंगा

corona को लेकर पीएम ग्यूसेप कोंटे से 3 घंटों तक सवाल-जवाब (फाइल फोटो)

corona को लेकर पीएम ग्यूसेप कोंटे से 3 घंटों तक सवाल-जवाब (फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री ग्यूसेप कोंटे (Pm Giuseppe Conte) ने कहा कि वह बर्गामो इंवेस्टिगेशन का स्वागत करते हैं और उन्हें इससे कोई ...अधिक पढ़ें

    रोम. लोंबार्डी क्षेत्र के शहर बर्गामो के कुछ अभियोजकों ने कोरोनोवायरस (Coronavirus) आपातकालीन स्थिति से निपटने के बारे में शुक्रवार को इटली के प्रधानमंत्री ग्यूसेप कोंटे (PM Giuseppe Conte) से लगभग तीन घंटे तक पूछताछ की. पीएम कार्यालय ने इस बात की पुष्टि की. दरअसल, बर्गामों के अभियोजकों ने इस बात की जांच शुरू की है कि यहां के दो शहरों में अधिक केस के होने के बावजूद उसे रेड जोन में क्यों नहीं डाला गया. उल्लेखनीय है कि कोरोना महामारी के कारण इटली में 34,000 से अधिक लोगों की जान चली गई है. मुख्य अभियोजक मारिया क्रिस्टीना रोटा और उनकी टीम यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि बर्गामो प्रांत के नेम्ब्रो और अल्जानो कस्बो के आसपास क्षेत्रों में इमरजेंसी के दौरान लॉकडाउन जल्दी क्यों नहीं लागू किया गया.

    स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि अगर इन क्षेत्रों को पहले से भी क्वारेंटाइन के दायरे में रखा होता तो यहां लोगों की इतनी मौतें ना होती.

    क्वारेंटाइन के दायरे में आने वाला पहला शहर था कोडोग्नो
    बता दें, टीम लोम्बार्डी में पहले ही वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर चुकी है. इटली के प्रधानमंत्री ग्यूसेप कोंटे ने माना कि कुछ क्षेत्रों को फरवरी के अंत और मार्च की शुरुआत में ही बंद कर दिया गया था जहां केस बढ़ रहे थे. उन्होंने कहा, 'अगर लोम्बार्डी चाहता तो वह अल्जानो और नेम्ब्रो को रेड जोन बना सकता था.' इटली में क्वारेंटाइन के दायरे में आने वाला पहला शहर कोडोग्नो था.

    10 मार्च को पूरे देश में लॉकडाउन
    कोडोग्नो के आसपास के नौ अन्य शहरों को भी पहले से ही लॉकडाउन कर दिया गया था. वहीं वेनेटो, पीडमोंट और एमिलिया रोमाग्ना के 14 प्रांतों को 8 मार्च को बंद कर दिया गया था. कोंटे ने कहा कि 10 मार्च को हमने पूरे देश में लॉकडाउन कर दिया था.

    'लोगों को पूछताछ करने का पूरा अधिकार'
    कोंटे ने कहा कि वह बर्गामो इंवेस्टिगेशन का स्वागत करते हैं और उन्हें इससे कोई दिक्कत नहीं है. उन्होंने कहा कि मैं उन्हें वह सभी बातें जरूर बताउंगा जो मेरी जानकारी में होंगी. लोगों को पूछताछ करने का पूरा अधिकार है और मैं इसमे पूरा सहयोग दूंगा

    ये भी पढ़ें: महिला को बाइक से बांघकर घसीटा और की मारपीट, केन्या के 3 पुलिसकर्मी गिरफ्तार

    Tags: Corona, Corona Cases, Corona epidemic, Death, Italy, Rome

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें