प्रदर्शनकारियों ने राष्ट्रपति लुकाशेंको से कहा-'जन्मदिन मुबारक चूहे', पुतिन ने रूस बुलाया

प्रदर्शनकारियों ने राष्ट्रपति लुकाशेंको से कहा-'जन्मदिन मुबारक चूहे', पुतिन ने रूस बुलाया
व्लादीमीर पुतिन और अलेक्जेंडर लुकाशेंकों

बेलारूसवासियों (Belarus) ने रविवार को राष्ट्रपति अलेक्जेंडर लुकाशेंको (Aleczender Lukashenko) के आवास के पास 'जन्मदिन मुबारक चूहे' चिल्लाते हुए उन पर राष्ट्रपति पद छोड़ने (Step Down) का दबाव बनाया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 31, 2020, 2:04 PM IST
  • Share this:
मिंस्क. बेलारूसवासियों (Belarus) ने रविवार को राष्ट्रपति अलेक्जेंडर लुकाशेंको (Aleczender Lukashenko) के आवास के पास 'जन्मदिन मुबारक चूहे' चिल्लाते हुए उन पर राष्ट्रपति पद छोड़ने (Step Down) का दबाव बनाया. प्रदर्शनकारी सफेद रंग के विरोधी झंडे लहराते हुए वहां खड़े हुए थे. बेलारूस के राष्ट्रपति पिछले 26 साल से अपने पद पर बने हुए हैं और आने वाले वक़्त में भी पद छोड़ने को तैयार नहीं दिख रहे हैं. रूस की आरआईए (RIA) समाचार एजेंसी द्वारा प्रकाशित एक तस्वीर के अनुसार राष्ट्रपति लुकाशेंको लगातार दूसरे वीकेंड एक काली टोपी पहने अपने आवास के चारों ओर घूमते हुए दिखाई दिए. उस वक़्त उनके पास एक ऑटोमैटिक राइफल भी होती है.

लुकाशेंको रविवार को 66 वर्ष के हो गए

लुकाशेंको रविवार को 66 वर्ष के हो गए हैं. 9 अगस्त को चुनाव जीतने के बाद से वे कई सप्ताह से विरोध, प्रदर्शनों और हमलों को रोकने के लिए संघर्ष कर रहे हैं. उनके विरोधी लगातार यह कहकर उनका विरोध कर रहे हैं कि उन्होंने चुनावों में धांधली की थी लेकिन लुकाशेंको लगातार चुनावी धोखाधड़ी से इंकार करते रहे हैं और प्रदर्शनकारियों को विदेशी ताकतों के समर्थन की बात भी कह रहे हैं.



पुतिन ने मास्को आने का न्योता दिया
रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने बेलारूस के राष्ट्रपति लुकाशेंको को उनके जन्मदिन पर फ़ोन कर बधाई दी और उन्हें मॉस्को आने का आमंत्रण दिया है. यह फ़ोन इस बात का संकेत है कि रूस के राष्ट्रपति पुतिन अशांति और नए पश्चिमी प्रतिबंधों के खतरे के साथ जूझ रहे लुकाशेंको को अपना समर्थन देना चाहते हैं.

लुकाशेंको के अनुरोध पर क्रेमलिन ने रिजर्व पुलिस बल स्थापित किया

लुकाशेंको की मदद करने की रूस की इच्छा के सबसे बड़े संकेत देते हुए रुसी राष्ट्रपति पुतिन ने गुरुवार को कहा कि क्रेमलिन ने लुकाशेंको के अनुरोध पर एक "रिजर्व पुलिस बल" स्थापित किया है हालांकि यह केवल जरूरत पड़ने पर ही तैनात किया जाएगा. पुतिन ने आने वाले हफ्तों में मास्को में एक बैठक आयोजित करने की बात भी कही.

लुकाशेंको के विरोध में लोगों ने 1990 में उठाए थे झंडे

हजारों प्रदर्शनकारियों ने दोपहर में गुब्बारे, फूल और झंडे लेकर मिन्स्क में प्रवेश किया. बेलारूस में 1990 के दशक की शुरुआत में एक छोटी अवधि के लिए एक सफेद-लाल-सफेद झंडा सरकार के विरोध का प्रतीक बन गया था. लोगों ने प्रदर्शन के दौरान वही झंडे उठा रखे थे. आसपास से गुजर रही कारों में बैठे लोगों ने हॉर्न बजाकर अपनी एकजुटता प्रदर्शित की. कुछ महिलाएं हेलमेटधारी सुरक्षा बलों के घेरे के सामने जाकर लेट गईं. वहां मिलिट्री की बख्तरबंद गाड़ियां भी आती दिखीं.

सिर्फ 20-30% बेलारूसी समाज ही राष्ट्रपति के खिलाफ: निकोलाई

इसी बीच रूसी समाचार एजेंसियों ने बताया कि राष्ट्रपति निकोलाई लातिशेनोक के एक सहयोगी ने विपक्ष से बात करने से इंकार कर दिया और कहा कि उनके विचार में केवल 20-30% बेलारूसी समाज ही राष्ट्रपति के खिलाफ है. वहीं सरकार ने प्रदर्शनकारियों की शक्ति को कम करने के लिए कई हैं.
देश के सबसे बड़े मोबाइल ऑपरेटरों में से एक A1 ने कहा है कि उसने सरकार के अनुरोध पर मोबाइल इंटरनेट बैंडविड्थ की क्षमता को कम कर दिया है.

ये भी पढ़ें: इंग्लैंड में प्लास्टिक बैग पर दोगुना हुआ शुल्क, 15 अरब बैग बाजार से वापिस लिए 

प्रदर्शनकारियों ने कनाडा के प्रथम प्रधानमंत्री की प्रतिमा गिराई, पुलिस फंड बंद करने की मांग की 

डेमोकैट्स ने कहा- ट्रंप ना करें विस्कोन्सिन का दौरा, वे बोले, 'एकजुटता' है इसका जवाब

यूरोपीय संघ बेलारूस पर नए प्रतिबंध लगाने के लिए कमर कस रहा है. लुकाशेंको ने शुक्रवार को जवाबी कार्रवाई में अपने देश में यूरोपीय पारगमन मार्गों को काटने की धमकी दी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज