होम /न्यूज /दुनिया /

VIDEO: यूक्रेन पर हमले का विरोध, पोलैंड में नाराज लोगों ने रूसी राजदूत पर फेंका लाल पेंट

VIDEO: यूक्रेन पर हमले का विरोध, पोलैंड में नाराज लोगों ने रूसी राजदूत पर फेंका लाल पेंट

यूक्रेन पर हमले के विरोध में पौलेंड में रूस के राजदूत पर फेंका गया पेंट (Image: Twitter @jackeparrock)

यूक्रेन पर हमले के विरोध में पौलेंड में रूस के राजदूत पर फेंका गया पेंट (Image: Twitter @jackeparrock)

Russia-Ukraine War: यूक्रेन पर रूस के हमले के विरोध का सामना पौलेंड में रूस के राजदूत को करना पड़ा है. यहां प्रदर्शनकारियों ने सोमवार को द्वितीय विश्व युद्ध में जान गंवाने वाले, रेड आर्मी के जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए वारसा के एक कब्रिस्तान पहुंचे रूसी राजदूत सर्गेई आंद्रीव (Russian Ambassador Sergey Andreev) पर लाल रंग का पेंट फेंका.

अधिक पढ़ें ...

वारसा: पोलैंड में प्रदर्शनकारियों ने सोमवार को द्वितीय विश्व युद्ध में जान गंवाने वाले, रेड आर्मी के जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए वारसा के एक कब्रिस्तान पहुंचे रूसी राजदूत सर्गेई आंद्रीव (Russian Ambassador Sergey Andreev) पर लाल रंग का पेंट फेंका. आंद्रीव कब्रिस्तान में तत्कालीन सोवियत संघ के सैनिकों को पुष्पांजलि अर्पित करने पहुंचे थे, जहां यूक्रेन में रूस के युद्ध का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों का एक समूह उनका इंतजार कर रहा था.

वीडियो फुटेज में प्रदर्शनकारियों को आंद्रीव पर पीछे से लाल पेंट फेंकते देखा जा सकता है. इसमें एक प्रदर्शनकारी उनके चेहरे पर पेंट फेंकता नजर आ रहा है. यूक्रेन का झंडा थामे प्रदर्शनकारियों ने आंद्रीव और रूसी प्रतिनिधिमंडल के अन्य सदस्यों को कब्रिस्तान में पुष्पांजलि अर्पित करने से रोका.

कुछ प्रदर्शनकारी यूक्रेन पर रूस के हमले के शिकार हुए लोगों के प्रति एकजुटता दिखाते हुए, खून के धब्बों वाली सफेद चादरें लपेटे हुए थे. उन्होंने आंद्रीव के सामने ‘फासीवादी’ तथा अन्य नारे लगाए. आंद्रीव के साथ कब्रिस्तान पहुंचे रूसी प्रतिनिधिमंडल के अन्य सदस्यों पर भी लाल पेंट प्रतीत होने वाली तरल सामग्री फेंकी गई.

पुतिन बोले-रूस पर हमले की फिराक में था NATO, इसलिए किया यूक्रेन पर अटैक

कब्रिस्तान से सुरक्षित बाहर निकलने में रूसी राजदूत और उनके प्रतिनिधिमंडल के अन्य सदस्यों की मदद करने के लिए पोलैंड पुलिस को वहां बुलाना पड़ा. बता दें कि तमाम यूरोपीय देश की सरकारें, शख्सियत और संगठन राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के यूक्रेन पर हमले का शुरू से विरोध करते आए हैं.

यूक्रेन के रूस पर हमले के बाद अमेरिका समेत कई यूरोपीय देशों ने रूस का बहिष्कार करते हुए उस पर कड़े आर्थिक प्रतिबंध लगाए हैं, जिसकी वजह से वहां की अर्थव्यवस्था को बड़ा झटका लगा है और महंगाई अपने शिखर पर है. इन मुद्दों को लेकर रूस में भी कई नागरिक और संगठन यूक्रेन में जारी सैन्य कार्रवाई का विरोध कर रहे हैं.

Tags: Russia, Ukraine, Vladimir Putin

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर