रेप के आरोपी डार्मेनियन को मंत्री बनाने पर महिलाओं का गुस्सा फूटा, फ्रांस में प्रदर्शन

रेप के आरोपी डार्मेनियन को मंत्री बनाने पर महिलाओं का गुस्सा फूटा, फ्रांस में प्रदर्शन
बलात्कार के आरोपी जेराल्ड डार्मेनियन को आंतरिक मंत्री बनाने जाने पर बवाल खड़ा हो गया है.

फ्रांस की राजधानी पेरिस में बलात्कार के आरोपी पूर्व बजट मंत्री जेराल्ड डार्मेनियन (Rape Accused Gerald Darmenian) की आंतरिक मंत्री के रूप में नियुक्त किए जाने का विरोध करने सड़कों पर प्रदर्शन के लिए उतरीं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 11, 2020, 11:37 AM IST
  • Share this:
पेरिस. फ्रांस की राजधानी पेरिस की सड़कों पर शुक्रवार को सैकड़ों महिलाएं प्रोटेस्ट (Protest March in Paris) करने के लिए उतर गईं. दरअसल ये महिलाएं पेरिस में बलात्कार के आरोपी पूर्व बजट मंत्री जेराल्ड डार्मेनियन (Rape Accused Gerald Darmenian) की आंतरिक मंत्री के रूप में नियुक्ति के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन करने के लिए उतरी थीं. दर्जनों नारीवादी प्रदर्शनकारियों ने आंतरिक मंत्रालय के बाहर एकत्रित होकर 'बलात्कारी डार्मेनियन' और 'डार्मेनियन इस्तीफा दो' (Resign Darmenian) के नारे लगाए.

मंत्री जेराल्ड डार्मेनियन आरोपों से करते रहे इंकार

मंत्री जेराल्ड डार्मेनियन इन आरोपों से इंकार करते रहे हैं. डार्मेनियन को सोमवार को एक सरकारी फेरबदल में आंतरिक मंत्री के महत्वपूर्ण पद पर पदोन्नत किया गया. 37 साल के डार्मेनियन पहले बजट मंत्री के रूप में काम कर रहे थे. फ्रांस के नए प्रधानमंत्री जीन कैस्टेक्स ने अपने आंतरिक मंत्री की नियुक्ति की पूरी जिम्मेदारी लेते हुए उनका जोरदार बचाव किया है. राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रोन के कार्यालय ने एक बयान में कहा है कि जेराल्ड डार्मेनियन की पुलिस और अन्य कानून प्रवर्तन निकायों के प्रभारी के रूप में नियुक्ति में बलात्कार की जांच कोई बाधा नहीं थी.



वर्ष 2017 से चल रहा है मामला
हाल ही में फिर से खोली गई जांच 2017 में एक महिला द्वारा की गई कानूनी शिकायत पर आधारित है. इस शिकायत में महिला ने जेराल्ड डार्मेनियन पर यह आरोप लगा गया था कि वर्ष 2009 में जब उसने डार्मेनियन से कानूनी मदद मांगी थी उसने उसका बलात्कार किया था लेकिन डार्मेनियन ने इस आरोप को ख़ारिज करते हुए कहा था कि यह संबंध सहमति से बनाया गया था.

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान में कृष्ण मंदिर निर्माण पर रोक के बाद राम मंदिर में पूजा पर बैन लगा

ट्रंप टावर के सामने न्यूयॉर्क के मेयर ने बड़े अक्षरों में लिखा-'Black Lives Matter'

दो साल पहले डार्मेनियन के खिलाफ बलात्कार के मामले को खारिज कर दिया था लेकिन पिछले महीने पेरिस की अपील अदालत ने बलात्कार के आरोप की जांच फिर से शुरू करने का आदेश दिया. नारीवादी प्रदर्शनकारी इस बारे में राष्ट्रपति से भी सवाल करती है कि क्या राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रोन पुरुषों और महिलाओं के बीच समानता की प्राथमिकता बनाने के अपने वादों में विफल हो रहे हैं?
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading