लाइव टीवी

ऑस्ट्रेलिया में शार्क अटैक के बाद दहशत में पर्यटक, उठी ये मांग...


Updated: October 31, 2019, 9:04 AM IST
ऑस्ट्रेलिया में शार्क अटैक के बाद दहशत में पर्यटक, उठी ये मांग...
Reef Sea Great Barrier Reef Underwater Fish Shark

ऑस्ट्रेलिया क्वींसलैंड (Queensland Australia) के व्हिट्सनडे द्वीप (Whitsunday Island) में स्नोर्कलिंग (Snorkelling) का लुत्फ उठा रहे दो पर्यटकों पर शार्क ने जानलेवा हमला किया.

  • Last Updated: October 31, 2019, 9:04 AM IST
  • Share this:
क्वींसलैंड. एक तरफ जहां दुनिया 'बेबी शार्क' (Baby Shark) की धुन का आनंद लेने में जुटी हैं वहीं ऑस्ट्रलिया (Australia) में शार्क मछलियों (Shark Attack) ने दहशत फैला दी है. मंगलवार को ऑस्ट्रेलिया क्वींसलैंड (Queensland Australia) के व्हिट्सनडे द्वीप (Whitsunday Island) में स्नोर्कलिंग (Snorkelling) का लुत्फ उठा रहे दो पर्यटकों पर शार्क ने जानलेवा हमला किया. इस हमले के बाद स्थानीय टूरिस्ट ऑपरेटरों (Australia Tourist Operator)  को डर है कि यहां का पर्यटन बुरी तरह प्रभावित होगा. पिछले साल भी शार्क हमले में एक व्यक्ति की जान चली गई थी जबकि एक 12 वर्षीय लड़की को अपना एक पैर गंवाना पड़ा था.

स्थानीय टूरिज्म ऑपरेटर चाहते हैं कि ऑस्ट्रेलिया के व्हिट्सनडे आइलैंड्स में एरियल शार्क गश्त लगाई जाए. ग्रेट बैरियर रीफ में शार्क हमलों के बाद पर्यटकों की संख्या गिरने की आशंका के चलते ऑपरेटर ऐसी मांग कर रहे हैं.

पिछले साल की तुलना में इस साल व्हिट्सनडे आइलैंड्स पर आने वाले पर्यटकों की संख्या में पहले ही काफी गिरावट आ चुकी है. एक साल पहले दो अलग-अलग घटनाओं में यहां एक व्यक्ति की मौत हो गई थी जबकि 12 साल की एक लड़की को अपना एक पैर गंवाना पड़ा था. दोनो ही घटनाएं शार्क हमले की थीं.

पर्यटन उद्योग पर छाए चिंता के बादल

व्हिट्सनडे टूरिज्म के मुख्य कार्यकारी अधिकारी टैश व्हीलर ने इस बात को माना कि पर्यटकों की संख्या में गिरावट की मुख्य वजह शार्क हमलों का डर है.  उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि पिछले 12 महीनों पर्यटन उद्योग पर प्रभाव पड़ा है. हालही में जारी आंकड़ों की माने तो इलाके में विदेशी पर्यटकों की संख्या मार्च 2019 में समाप्त हुए वित्त वर्ष में छह प्रतिशत गिरकर सवा दो लाख रह गई.

व्हीलर शार्क पर हवाई गश्त करने के लिए पिछले साल से सरकारी फंड मांग रहे हैं. यह केवल एक अंतरिम उपाय की तरह माना जा रहा था. शार्क के इलाके में सर्वे किया गया है और उसे तैराकी के लिए सुरक्षित होने का दावा भी व्हीलर कर रहे हैं.

Justin Bieber Says - This Photo Is Real Whale Shark
व्हेल शार्क (Whale Shark) समुद्र की सबसे बड़ी मछली

Loading...

ताजा हमला तब हुआ है जब क्वींसलैंड की राज्य सरकार कोर्ट में एक केस हार गई. इस केस में कोर्ट ने क्वींसलैंड सरकार को मानव रहित शार्क जाल हटाने का निर्देश दिया था. यह जाल प्रशासन के दशकों पुराने शार्क कंट्रोल प्रोग्राम के तहत यहां लगाए गए थे.

स्थानीय कोर्ट ने यह भी आदेश दिया कि इनमें पकड़ी गईं शार्क को ग्रेट बैरियर रीफ मरीन पार्क में वापस छोड़ा जाए. कोर्ट ने सरकार की उस चेतावनी को नजरअंदाज कर दिया था जिसमें शार्क छोड़े जाने पर खतरनाक हालात पैदा होने की बात कही गई थी. मंगलवार के हमले के बाद, क्वींसलैंड सरकार ने घोषणा की कि वह संरक्षित क्षेत्र के बाहर 32 अतिरिक्त ड्रम लाइनें स्थापित करेगी.

अदालत ने ह्यूमेन सोसाइटी इंटरनेशनल नाम की संस्था की याचिका पर सुनवाई करते हुए सरकार को यह आदेश दिया था. अब इस संस्था ने मंगलवार के हमलों को इसका दुष्परिणाम मानने से इनकार कर दिया है. समुद्री जीवन का संरक्षण करने के काम में लगे एक कार्यकर्ता लॉरेंस कोलेबेक ने कहा कि शार्क के लिए अधिक पारंपरिक ड्रम लाइनों को स्थापित करना गलत प्रतिक्रिया है. इससे समस्या का हल नहीं होने वाला.

हालांकि यह बात भी सही है कि ऑस्ट्रेलिया में जितनी संख्या में पर्यटक समुद्री तटों पर पहुंचते हैं उसकी तुलना में शार्क हमले बेहद कम हैं. सिडनी के टारोंगा चिड़ियाघर द्वारा संकलित आंकड़ों के अनुसार 2018 के दौरान 27 हमले हुए.

ये भी पढ़ें:

वर्तमान मानव प्रजाति के पहले कदम धरती पर यहां पड़े थे..

आपके ऑनलाइन वीडियो देखने से जलवायु को हो रहा है बड़ा नुकसान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 31, 2019, 9:04 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...