लाइव टीवी

राफेल की 'शस्त्र पूजा' विवाद के बीच राजनाथ सिंह के बचाव में आई पाक सेना, कही ये बात

News18Hindi
Updated: October 11, 2019, 9:34 PM IST
राफेल की 'शस्त्र पूजा' विवाद के बीच राजनाथ सिंह के बचाव में आई पाक सेना, कही ये बात
पाकिस्‍तान की सेना के प्रवक्‍ता आसिफ गफूर ने राजनाथ सिंह का बचाव करते हुए कहा, धार्मिक रीति-रिवाजों के मुताबिक राफेल पूजा की गई और इसका सम्‍मान किया जाना चाहिए.

पाकिस्‍तानी सेना के प्रवक्‍ता आसिफ गफूर (Asif Ghafoor) ने कहा कि फ्रांस (France) में लड़ाकू विमान के पूजन (RafalePuja) में कुछ भी गलत नहीं है. उन्‍हें अपनी धार्मिक मान्‍यताओं के मुताबिक राफेल जेट का पूजन किया और इसका सम्‍मान किया जाना चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 11, 2019, 9:34 PM IST
  • Share this:
इस्‍लामाबाद. भारत सरकार (Indian Government) के हर फैसले पर आक्रामक रुख अपनाने वाले पाकिस्‍तानी सेना (Pakistsan Army) के प्रवक्‍ता आसिफ गफूर (Asif Ghafoor) ने इस बार एक मामले पर अप्रत्‍याशित प्रतिक्रिया दी है. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) के फ्रांसीसी राफेल लड़ाकू विमान (Rafale Fighter Jet) के पूजन को लेकर भारत में जहां लोग तीखी प्रतिक्रिया दे रहे हैं. वहीं, आसिफ गफूर का कहना है कि इसमें कुछ भी गलत नहीं है. उन्‍होंने राजनाथ सिंह की शस्‍त्र पूजा को धार्मिक मान्‍यताओं से जुड़ा मामला बताते हुए सही ठहराया.

'कोई भी लड़ाकू विमान सिर्फ एक मशीन नहीं होता'
पाकिस्‍तान की सेना के प्रवक्‍ता आसिफ गफूर ने राजनाथ सिंह का बचाव करते हुए कहा, 'धार्मिक रीति-रिवाजों के मुताबिक राफेल पूजा की गई और इसका सम्‍मान किया जाना चाहिए.' इस दौरान उन्‍होंने कहा, हमें ध्‍यान रखना चाहिए कि राफेल जेट सिर्फ एक मशीन (Machine) नहीं है. हर लड़ाकू विमान उड़ाने वाले पायलट के सामर्थ्‍य (Competence), जोश (Passion) और संकल्‍प (Resolve) से जुड़ी मशीन होता है. इस दौरान पाकिस्‍तानी वायुसेना (PAF) के बेड़े में शामिल लड़ाकू विमान की तारीफ करते हुए आसिफ गफूर ने बृहस्‍पतिवार को कहा कि हमें शाहीन (Shaheena) विमानों पर फक्र है.

भारत-पाक के बीच तनाव के माहौल में आया बयान

आसिफ गफूर का राजनाथ सिंह के बचाव में यह बयान ऐसे समय है जब दोनों पड़ोसी देशों (Neighbours) के बीच तनाव (Tension) अपने चरम पर है. केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार (Narendra Modi Government) का जम्‍मू-कश्‍मीर (Jammu-Kashmir) से अनुच्‍छेद-370 (Article-370) हटाना पाकिस्‍तान को पसंद नहीं आया. इसके बाद पाकिस्‍तान लगातार भारत पर जुबानी हमले कर रहा है. साथ ही इस फैसले को अंतरराष्‍ट्रीय मुद्दा (International Issue) बनाने की नाकाम कोशिश कर रहा है. पाकिस्‍तान अनुच्‍छेद-370 हटाए जाने से इतना बौखला गया है कि प्रधानमंत्री इमरान खान (PM Imran Khan) ने परमाणु युद्ध (Nuclear War) की धमकी तक दे डाली थी.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 8 अक्‍टूबर को दशहरा पर फ्रांस का पहला राफेल लड़ाकू विमान मिलने पर शस्‍त्र पूजा की.


भारत में हो रही राफेल पूजा की तीखी आलोचना
Loading...

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 8 अक्‍टूबर को फ्रांस में पहला राफेल लड़ाकू विमान हासिल किया. दशहरा होने के कारण उन्‍होंने शस्‍त्र पूजन भी किया. इस दौरान उन्‍होंने लड़ाकू विमान पर ओम लिखा, फूल चढ़ाए, नारियल रखा और बुरी नजर से बचाने के लिए पहियों के नीचे नींबू भी रखे. इसके बाद सोशल मीडिया (Social Media) पर लोगों ने शस्‍त्र पूजन को लेकर तीखी प्रतिक्रिया देनी शुरू कर दी. कुछ लोगों ने इसे 'तमाशा' तक करार दे दिया. कांग्रेस (Congress) नेता उदित राज (Udit Raj) ने राफेल पूजन पर कहा कि जिस दिन देश में अंधविश्‍वास (Superstition) खत्‍म हो जाएगा हम अपना लड़ाकू विमान बना लेंगे.

ये भी पढ़ें:

आज भारत पहुंचेंगे जिनपिंग, मामल्लापुरम में दो दिन चलेगी PM मोदी से बातचीत

प्रधानमंत्री मोदी क्यों शी जिनपिंग को दिलवाना चाहते हैं महाबलीपुरम की याद?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 11, 2019, 9:14 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...