Home /News /world /

जापान के तट के पास आया 6.4 की तीव्रता का भूकंप: यूएसजीएस

जापान के तट के पास आया 6.4 की तीव्रता का भूकंप: यूएसजीएस

अभी तक वैज्ञानिक भूंकपों की सही और सटीक वजहों का पता नहीं लगा सके हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

अभी तक वैज्ञानिक भूंकपों की सही और सटीक वजहों का पता नहीं लगा सके हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जापान (Japan) के तट के पास आए 6.4 की तीव्रता के भूकंप (Earthquake) का केंद्र प्रशांत सागर तल के नीचे 41.7 किलोमीटर की गहराई में था. यह मियागी प्रांत से 50 किलोमीटर से भी कम की दूरी पर है.

    तोक्यो. जापान (Japan) के पूर्वी तट के पास सोमवार सुबह 6.4 तीव्रता का भूकंप (Earthquake) आया, लेकिन इसके कारण सुनामी संबंधी कोई चेतावनी जारी नहीं की गई है. अमेरिकी भूगर्भीय सर्वेक्षण (United States Geological Survey) ने अपनी वेबसाइट पर बताया कि भूकंप का केंद्र प्रशांत सागर तल के नीचे 41.7 किलोमीटर की गहराई में था. यह मियागी प्रांत से 50 किलोमीटर से भी कम की दूरी पर है.

    हालांकि इस भूकंप से यहां जान-माल को कोई खासा नुकसान नहीं पहुंचा है. जापान मौसम विज्ञान एजेंसी ने (जीएमए) ने इस भूकंप की तीव्रता 6.1 बताई और इसका केंद्र 50 किलोमीटर गहराई में बताया.

    जापान की क्योदो संवाद समिति ने बताया कि सुबह साढ़े पांच बजे (अंतरराष्ट्रीय समयानुसार रात साढ़े आठ बजे) आए भूकंप के बाद सुनामी संबंधी कोई चेतावनी जारी नहीं की गई है. जापान प्रशांत महासागर के रिंग ऑफ फायर क्षेत्र में आता है जहां अकसर भूकंप आते रहते हैं.


    जापान चार बड़े द्वीपों से मिलकर बना है. इसके अलावा इसमें कई सारे छोटे-छोटे द्वीप भी हैं. जापान का भूगोल ऐसा है कि वहां अक्सर भूकंप आते रहते हैं. इन भूकंप के चलते कई बार सुनामी भी आती हैं. हालांकि हर बार इनकी तीव्रता बहुत ज्यादा नहीं होती है.

    ये भी पढ़ें: COVID-19: जापान में कोरोना के मरीजों की बाढ़, इमरजेंसी मेडिकल सिस्टम फेल

    2019 में यहां भूकंप आया था जिसके बाद सुनामी की चेतावनी जारी की गई थी. वही 2011 में आये 9.0 तीव्रता के विनाशकारी भूकंप के बाद भयानक सुनामी आई थी और फुकुशिमा परमाणु संयंत्र से विकिरण रिसाव हुआ था. इस दौरान करीब 16,000 लोगों की मौत हो गई थी.

    साल 1896 में जापान में ऐसा भूकंप आया जिससे सानरिकू तट पर आई सुनामी ने करीब 22,000 लोगों की जिंदगियां ले ली थीं. इसे जापान के इतिहास की सबसे विनाशकारी सुनामी माना जाता है. जिसे वहां के लोग 123 साल बाद भी भुला नहीं पाए. (भाषा इनपुट) 

    ये भी पढ़ें: कोरोना महामारी पर जर्मनी के अखबार के तीखे सवालों से तिलमिलाया चीन

    Tags: Earthquake, Japan, Natural Disaster, Tsunami

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर