लोकतंत्र लाने के बहाने पश्चिम अफ्रीकी देश गबोन में सेना का तख्तापलट

गबोन की राजधानी लिबरेविले में कर्फ्यू लगा दिया गया है और इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया है.

भाषा
Updated: January 7, 2019, 11:12 PM IST
लोकतंत्र लाने के बहाने पश्चिम अफ्रीकी देश गबोन में सेना का तख्तापलट
टीवी पर रिपब्लिकन गार्ड के कमांडर लेफ्टिनेंट ओबिआंग ओंडो केली ने कहा कि सेना ने सरकार का नियंत्रण अपने हाथ में ले लिया है. (Gabon State TV via AP)
भाषा
Updated: January 7, 2019, 11:12 PM IST
पश्चिम अफ्रीकी देश गबोन में सेना ने ‘लोकतंत्र बहाल’ करने के लिए सरकार का तख्तापलट कर दिया है. सोमवार को टीवी पर रिपब्लिकन गार्ड के कमांडर लेफ्टिनेंट ओबिआंग ओंडो केली ने कहा कि सेना ने सरकार का नियंत्रण अपने हाथ में ले लिया है. उनके साथ सेना की वर्दी पहने दो अन्य सैनिक हथियार पकड़े खड़े थे.

राजधानी लिबरेविले में कर्फ्यू लगा दिया गया है और इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया है. अटलांटिक महासागर के तट पर बसे शहर में सेना टैंकों और सशस्त्र वाहनों से गश्त कर रही है. अब तक हिंसा की किसी घटना की रिपोर्ट नहीं है.

राष्ट्रपति अली बोंगो 2009 से सत्ता पर काबिज हैं. उनको मस्तिष्काघात होने की खबरों के बीच वह अक्टूबर से देश से बाहर हैं. उन्होंने नव वर्ष के मौके पर हाल में देश को संबोधित किया था. यह संदेश मोरोक्को में रिकॉर्ड किया गया था जहां उनका इलाज चल रहा है.

तेल समृद्ध गबोन में करीब 50 बरस से बोंगो और उनके पिता उमर शासन कर रहे हैं. उमर का 2009 में निधन हो गया था.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर