हिटलर के जन्मस्थान को पुलिस स्टेशन में बदलेगा ऑस्ट्रिया

हिटलर के जन्मस्थान को पुलिस स्टेशन में बदलेगा ऑस्ट्रिया
ऑस्ट्रिया में हिटलर के घर को एक पुलिस स्टेशन में बदले जाने का फैसला किया गया है (फाइल फोटो, AP)

अपेक्षाकृत मामूली तीन मंजिला इमारत को ऑस्ट्रिया के गृह मंत्रालय (Austria's interior ministry) ने 1972 से इसके दुरुपयोग को रोकने के लिये किराए पर लिया हुआ था और विभिन्न धर्मार्थ संगठनों (various charitable organizations) को यह उपयोग के लिये दिया जाता था.

  • Share this:
वियना. ऑस्ट्रियाई प्रशासन (Austrian authorities) ने अडोल्फ हिटलर (Adolf Hitler) के घर के रीडिजाइन का प्लान पेश किया है. इस इमारत को एक पुलिस स्टेशन में बदले जाने का प्लान है. जिससे इस इमारत को यहां आकर नाजी तानाशाह (Nazi Dictator) को गौरवांवित करने वाले लोगों के श्रद्धास्थल के तौर पर उभरने से बचाया जा सके. यहां हिटलर का जन्म 1889 में हुआ था. ऑस्ट्रियन आर्किटेक्ट मार्ते के डिजाइन को इसे बदलने के लिये मांगे गये सुझावों में जीत मिली है.

मार्ते ने 11 अन्य प्रतिद्वंदियों को इसके लिये जारी टेंडर (Tenders) की प्रतिस्पर्धा में मात दी है. जिसकी आधिकारिक घोषणा मंगलवार को की गई. इस घर का नवीनीकरण (refurbishment) 2022 के अंत तक पूरा होने की उम्मीद है और इसमें करीब 50 लाख यूरो यानी करीब 42 करोड़ रुपये का खर्च आने की उम्मीद है.

नवंबर में की गई थी घोषणा, पुलिस करेगी भवन का उपयोग
यह नवीनीकरण जर्मन सीमा पर ब्रूनाउ एम इन में घर के स्वामित्व और भविष्य को लेकर सालों तक चली खींचतान के बाद होने जा रहा है. जिसे 2017 में सुलझाया गया था, जब ऑस्ट्रिया की सर्वोच्च अदालत ने फैसला दिया था कि इसके मालिक के इसे बेचने से मना करने के बाद भी यह घर सरकार के इसे जब्त करने के अधिकारों के अंतर्गत आता है.
एक सुझाव यह था कि इसे ध्वस्त किया जा सकता है, और सरकार ने नवंबर में घोषणा की थी कि पुलिस भवन का उपयोग करेगी. यहां क्षेत्रीय कमांड और एक पुलिस स्टेशन (Police Station) का निर्माण किया जायेगा.



पुलिस को इसमें रखना सबसे सही उपयोग: गृहमंत्री
गृहमंत्री कार्ल नेहमर ने मंगलवार को कहा, “कुछ लोग पूछ सकते हैं कि क्या पुलिस (Police) को इसमें रखना क्या सही उपयोग है? तो यह सर्वथा उपयुक्त उपयोग है.”

"क्यों? पुलिस बुनियादी स्वतंत्रता और आजादी की संरक्षक हैं. प्रशिक्षण में पुलिस अधिकारी खुद को नागरिकों और साझीदारों के रूप में देखते हैं जो स्वतंत्रता की रक्षा करते हैं, चाहे वह कहीं इकट्ठा होने का अधिकार हो या भाषण की स्वतंत्रता."

इमारत का गलत उपयोग रोकने के लिये गृह मंत्रालय ने किराये पर ले लिया था
विजेता डिजाइन एक सरल, आधुनिक दृष्टिकोण वाला है लेकिन मूल इमारत की चीजों के साथ छेड़छाड़ नहीं करता है.

अपेक्षाकृत मामूली तीन मंजिला इमारत को ऑस्ट्रिया के गृह मंत्रालय ने 1972 से इसके दुरुपयोग को रोकने के लिये किराए पर लिया हुआ था और विभिन्न धर्मार्थ संगठनों (various charitable organizations) को यह उपयोग के लिये दिया जाता था. 2011 में यहां से विकलांग लोगों के लिये बने एक केयर सेंटर के जाने के बाद से यह खाली पड़ी थी.

ये भी देखें:



यह भी पढ़ें: डोनाल्ड ट्रंप ने प्रधानमंत्री मोदी को दिया G7 समिट में शामिल होने का न्योता
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading