अपना शहर चुनें

States

COVID-19: भारत ने मॉरीशस और सेशेल्स को भेजी जीवन रक्षक दवाएं

ईयू के कुछ देशों ने कोरोना वायरस के इलाज में मलेरिया की दवा के इस्तेमाल को बैन किया है.
ईयू के कुछ देशों ने कोरोना वायरस के इलाज में मलेरिया की दवा के इस्तेमाल को बैन किया है.

मॉरीशस (Mauritius) की उपप्रधानमंत्री लीला देवी एल डूकुन ने दिल्ली से एयर इंडिया के विशेष कार्गो विमान से कोरोना वायरस (Coronavirus) से निटपने के लिएहाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन (Hydroxychloroquine) की पांच लाख गोलियों की खेप प्राप्त की.

  • Share this:
पोर्ट लुई. भारत ने बुधवार को मॉरीशस (Mauritius) और सेशेल्स (Seychelles) को कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी से निटपने के लिए हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन (Hydroxychloroquine) दवा सहित जीवन रक्षक दवाओं का उपहार दिया. पोर्ट लुई स्थित भारतीय उच्चायोग ने एक बयान में कहा कि मॉरीशस की उपप्रधानमंत्री लीला देवी एल डूकुन ने दिल्ली से एयर इंडिया के विशेष कार्गो विमान से यहां बुधवार शाम पहुंची हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन की पांच लाख गोलियों की खेप प्राप्त की.

उसने कहा, कोविड-19 (COVID-19) वैश्विक महामारी के कारण उत्पन्न अभूतपूर्व मौजूदा कठिन स्थिति को देखते हुए भारत से इसके निर्यात पर प्रतिबंध जारी रहने के बावजूद इसकी यह खेप मानवीय पहलू को ध्यान में रखते हुए पहुंचाई गई. बयान में कहा गया, मॉरीशस उन कुछ देशों में से एक है जिसने कुछ देशों को प्रदान की गयी विशेष छूट के तहत इस दवा की आपूर्ति प्राप्त की. यह हमारे दोनों देशों के बीच अद्वितीय संबंधों को प्रदर्शित करता है.

उसने कहा कि यह खेप मॉरीशस के लिए भेजी गई 13 टन आवश्यक जीवन रक्षक दवाओं का हिस्सा थी. यह आवश्यक दवाओं की पहली खेप है और आने वाले हफ्तों में एक दूसरी खेप आएगी. भारत ने साथ ही कोविड-19 संकट के मद्देनजर सेशेल्स को चार टन आवश्यक जीवन रक्षक दवाओं की पहली खेप भी भेंट की.



ये भी पढ़ें: कोरोना: इस देश में सैनिटाइजर हुआ ख़त्म, अस्पताल इस्तेमाल कर रहे हैं शराब
सेशेल्स में भारत के उच्चायोग द्वारा जारी एक बयान में कहा गया, ये दवाएं सेशेल्स सरकार से अनुरोध के आधार पर खरीदी गई थीं. यह खेप एअर इंडिया के विशेष चार्टर बोइंग 787 की उड़ान से सेशेल्स में लाई गई.

कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है. इससे संक्रमित लोगों की संख्या दुनिया में बढ़कर 20 लाख हो गई है. दुनिया में कोरोना वायरस ने अब तक 1.27 लाख से ज्यादा लोगों की जान ले ली है. राहत की बात यह भी है कि दुनिया भर में अब तक कोरोना नाम की इस महामारी से 4,86,821 लोग ठीक भी हो चुके हैं.

कोरोना वायरस का कहर बढ़ता जा रहा है. दुनिया के लगभग हर देश में ये वायरस पहुंच चुका है. कोरना ने अब तक दुनिया के 20 लाख से अधिक लोगों को चपेट में ले लिया है, जबकि 1 लाख 26 हजार से ज्यादा अपनी जान गंवा चुके हैं. भारत में भी लगातार बढ़ते मामलों को लेकर सरकार ने लॉकडाउन 3 मई तक बढ़ा दिया है.

ये भी पढ़ें: सलाम! 99 साल के पूर्व फौजी ने कोरोना से लड़ रहे डॉक्टर्स के लिए जुटाए 20 करोड़
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज