होम /न्यूज /दुनिया /इटली में कट्टर दक्षिणपंथी गठबंधन आगे, सेकेंड वर्ल्ड वार के बाद बन सकती है पहली सरकार!

इटली में कट्टर दक्षिणपंथी गठबंधन आगे, सेकेंड वर्ल्ड वार के बाद बन सकती है पहली सरकार!

एक्जिट पोल के मुताबिक दक्षिणपंथी नेता जॉर्जिया मेलोनी के गठबंधन को इटली के आम चुनाव में बढ़त. (twitter.com/GiorgiaMeloni )

एक्जिट पोल के मुताबिक दक्षिणपंथी नेता जॉर्जिया मेलोनी के गठबंधन को इटली के आम चुनाव में बढ़त. (twitter.com/GiorgiaMeloni )

एक एक्जिट पोल के मुताबिक कट्टर दक्षिणपंथी नेता जॉर्जिया मेलोनी के चुनावी गठबंधन ने इटली के आम चुनाव में बढ़त हासिल कर ल ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

कट्टर दक्षिणपंथी नेता जॉर्जिया मेलोनी के चुनावी गठबंधन को इटली में बढ़त.
दक्षिणपंथी दलों के गठबंधन को संसद के दोनों सदनों में 45% वोट हासिल होने उम्मीद.
जॉर्जिया मेलोनी द्वितीय विश्व युद्ध के बाद इटली की पहली कट्टर दक्षिणपंथी पीएम बनने की ओर

रोम. एक एक्जिट पोल के मुताबिक कट्टर दक्षिणपंथी नेता जॉर्जिया मेलोनी के चुनावी गठबंधन ने इटली के आम चुनाव में बढ़त हासिल कर ली है. जॉर्जिया मेलोनी की ब्रदर्स ऑफ इटली पार्टी रविवार को हुए चुनाव में सबसे आगे है. पार्टी को 22 प्रतिशत से 26 प्रतिशत के बीच वोट मिलने की उम्मीद है. मेलोनी को अपने सहयोगियों माटेओ साल्विनी की फॉर राइट लीग लीग और पूर्व प्रधान मंत्री सिल्वियो बर्लुस्कोनी के फोर्जा इटालिया के साथ संसद के दोनों सदनों में स्पष्ट बहुमत हासिल करने की उम्मीद है.

न्यूज एजेंसी एएफपी की खबर के मुताबिक जॉर्जिया मेलोनी के ब्रदर्स ऑफ इटली और दो दक्षिणपंथी दलों के गठबंधन को संसद के दोनों सदनों में 45% वोट हासिल होने उम्मीद है. उनका निकटतम प्रतिस्पर्धी पूर्व प्रधानमंत्री एनरिको लेट्टा की डेमोक्रेटिक पार्टी के नेतृत्व वाला वाम गठबंधन प्रतीत होता है, जिसे एग्जिट पोल में 29.5% तक वोट हासिल होने का संकेत मिला है. इस एग्जिट पोल और अंतिम नतीजों में 3.5 प्रतिशत का अंतर हो सकता है.

45 वर्षीय जॉर्जिया मेलोनी द्वितीय विश्व युद्ध की समाप्ति के बाद इटली की पहली धुर दक्षिणपंथी प्रधानमंत्री बनने के लिए अच्छे बहुमत में होंगी और इस पद को संभालने वाली देश की पहली महिला होंगी. नव-फासीवादी जड़ों वाली उनकी पार्टी को संसद में ठोस बहुमत हासिल करने के लिए अपने मुख्य सहयोगियों, प्रवासी विरोधी लीग के नेता माटेओ साल्विनी और रूढ़िवादी पूर्व प्रीमियर सिल्वियो बर्लुस्कोनी के साथ गठबंधन बनाने की जरूरत होगी.

लैंडिग के दौरान रनवे पर फिसला विमान, पास की झील में आधा डूबा, देखें तस्वीरें

यूरोपीय संघ की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था इटली में जॉर्जिया मेलोनी का अचानक उभार किसी उल्कापिंड की तरह है. ये एक ऐसे महत्वपूर्ण समय पर हुआ है, जब अधिकांश यूरोप महाद्वीप तेल की बढ़ती कीमतों के कारण बढ़ती महंगाई से जूझ रहा है. ये संकट यूक्रेन में जंग का नतीजा है. इसके साथ ही रूसी हमले के खिलाफ एकजुट होने के पश्चिमी देशों के संकल्प की परीक्षा भी हो रही है.

Tags: Elections, Italy

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें