Home /News /world /

इंडोनेशिया: 70 हजार मस्जिदों ने घटाई लाउडस्पीकर्स की आवाज़, चिड़चिड़ेपन की मिली थी शिकायत

इंडोनेशिया: 70 हजार मस्जिदों ने घटाई लाउडस्पीकर्स की आवाज़, चिड़चिड़ेपन की मिली थी शिकायत

लोगों का कहना था कि लाउडस्पीकरों की तेज आवाज से उनके मेंटल हेल्थ पर बुरा असर पड़ रहा है.

लोगों का कहना था कि लाउडस्पीकरों की तेज आवाज से उनके मेंटल हेल्थ पर बुरा असर पड़ रहा है.

इंडोनेशिया (Indonesia)में दुनिया के किसी भी अन्य देश की तुलना में मुसलमानों (Muslim Population)की एक बड़ी आबादी है, जिसमें लगभग 20.29 करोड़ स्वयं को मुस्लिम (2011 में इंडोनेशिया की कुल जनसंख्या का 87.2 %) के रूप में पहचानते हैं. जनसांख्यिकीय आंकड़ों के आधार पर, 99% इन्डोनेशियाई मुस्लिम मुख्य रूप से शनिष्ठ स्कूल के सुन्नी न्यायशास्त्र का पालन करते हैं.

अधिक पढ़ें ...

    जकार्ता. इंडोनेशिया (Indonesia)में 21 करोड़ मुस्लिम आबादी (Muslim Population)रहती है. इस देश ने लोगों की शिकायतों का ध्यान रखते हुए अजान के लाउडस्पीकरों की आवाज (Loudspeakers of Ajan) घटाई गई है. इंडोनेशिया मस्जिद परिषद के मुताबिक, बीते 6 दिनों में कम से कम 70 हजार मस्जिदों के लाउडस्पीकर की आवाज धीमी की गई है. तेज आवाज से परेशान लोगों ने डिप्रेशन और चिड़चिड़ेपन की शिकायत की थी, जिसके बाद इंडोनेशिया मस्जिद परिषद के अध्यक्ष यूसुफ काल्ला ने ये पहल की.

    जकार्ता न्यूज़ के मुताबिक, इंडोनेशिया मस्जिद परिषद के अध्यक्ष यूसुफ काल्ला ने बताया ज्यादातर मस्जिदों के लाउडस्पीकर्स ठीक नहीं थे. ऐसे में अजान की आवाज तेज आती है. परिषद ने 7 हजार टेक्निशियनों को इस काम पर लगाया. अब देश की लगभग 70 हजार मस्जिदों के लाउडस्पीकरों की आवाज कम की गई है.

    मस्जिद में नमाज़ अदा करने जाना है तो मानने होंगे ये नियम, इंतज़ामिया कमेटी ने जारी की लिस्ट

    यूसुफ का कहना है कि इसके लिए कमेटी भी बनाई गई है. परिषद के समन्वयक अजीस का कहना है कि अजान की तेज आवाज इस्लामिक परंपरा है, ताकि आवाज दूर-दराज तक जाए.

    वहीं, जकार्ता की अल-इकवान मस्जिद के चेयरमैन अहमद तौफीक का कहना है कि लाउडस्पीकरों की आवाज कम करना पूरी तरह से खुद की पहल है. इसपर किसी ने कोई दबाव नहीं डाला. सामाजिक सौहार्द बनाए रखने के मकसद से ऐसा किया गया.

    रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले कुछ समय से देश में अजान के लाउडस्पीकरों की तेज आवाज को लेकर विरोध में स्वर उठने लगे थे. लोगों ने ऑनलाइन शिकायतें की थीं. लोगों का कहना था कि लाउडस्पीकरों की तेज आवाज से उनके मेंटल हेल्थ पर बुरा असर पड़ रहा है. उन्हें डिप्रेशन और नींद नहीं आने की दिक्कतें आ रही हैं.

    वो हिंदू, जो अयोध्या में ‘बाबरी मस्जिद’ कॉम्प्लेक्स का क्यूरेटर होगा

    बता दें कि इंडोनेशिया में दुनिया के किसी भी अन्य देश की तुलना में मुसलमानों की एक बड़ी आबादी है, जिसमें लगभग 20.29 करोड़ स्वयं को मुस्लिम (2011 में इंडोनेशिया की कुल जनसंख्या का 87.2 %) के रूप में पहचानते हैं. जनसांख्यिकीय आंकड़ों के आधार पर, 99% इन्डोनेशियाई मुस्लिम मुख्य रूप से शनिष्ठ स्कूल के सुन्नी न्यायशास्त्र का पालन करते हैं. लगभग 10 लाख शिया अहमदी मुसलमान हैं.

    Tags: Indonesia, Loudspeaker free shrines

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर