होम /न्यूज /दुनिया /

सीने में गोली लगने के बाद अभी कैसी है शिंजो आबे की हालत? जानें 10 अपडेट

सीने में गोली लगने के बाद अभी कैसी है शिंजो आबे की हालत? जानें 10 अपडेट

शिंजो आबे को गोली लगने के तुरंत बाद कार्डिएक अरेस्ट आया.

शिंजो आबे को गोली लगने के तुरंत बाद कार्डिएक अरेस्ट आया.

67 साल के ​​​​​​शिंजो आबे लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी(एलडीपी) पार्टी से जुड़े हैं. आबे 2006-07 के दौरान प्रधानमंत्री रहे. आबे को एक आक्रामक नेता माना जाता है.

टोक्यो. जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंज़ो आबे (Japanese former Prime Minister Shinzo Abe) को शुक्रवार सुबह गोली मार दी गई. वो नारा शहर में चुनाव के लिए प्रचार कर रहे थे. गोली चलाने वाले संदिग्ध को कुछ पल बाद ही गिरफ्तार कर लिया गया है.

67 साल के ​​​​​​शिंजो आबे लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी(एलडीपी) पार्टी से जुड़े हैं. आबे 2006-07 के दौरान प्रधानमंत्री रहे. आबे को एक आक्रामक नेता माना जाता है. शिंजो को आंत से जुड़ी बीमारी अल्सरट्रेटिव कोलाइटिस थी, इसकी वजह से उन्हें 2007 में प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था. शिंजो आबे लगातार 2803 दिनों (7 साल 6 महीने) तक प्रधानमंत्री रहे. इससे पहले यह रिकॉर्ड उनके चाचा इसाकु सैतो के नाम था.

आइए जानते हैं शिंजो आबे पर गोली चलने से लेकर हमलावर की गिरफ्तारी के 10 अपडेट…

एक इलेक्शन कैंपेन के दौरान शिंजो आबे को दो गोली मारी गईं. जापानी मीडिया के मुताबिक, नारा मेडिकल यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल में आबे का इलाज चल रहा है.
रिपोर्ट के मुताबिक, शिंजो आबे के दिल ने काम करना बंद कर दिया है. सांस लेने में दिक्कत हो रही है. काफी खून भी बह गया है. बाकी अंग भी काम नहीं कर रहे हैं. डॉक्टरों की टीम जान बचाने की पूरी कोशिश कर रही है.
आबे पर फायरिंग उस वक्त की गई, जब वे चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे. इस दौरान फायरिंग की आवाज आई और आबे गिर पड़े. शुरुआती रिपोर्ट्स में कहा गया कि किसी ने उन्हें सीने पर गोली मारी है. बाद में ये साफ हुआ कि उन पर पीछे से फायरिंग हुई.
आबे के सीने और कान के पीछे से खून निकलते देखा गया है. अचानक गिरने की वजह से उनके सिर पर भी चोट आई है.
गोली लगने के बाद शिंजो को दिल का दौरा भी पड़ा. हालांकि, अभी इसके बारे में आधिकारिक बयान नहीं आया है.
शिंजो आबे पर गोली चलाने वाले की पहचान रिपोर्ट्स के आधार पर तेतसुया यामागामी के तौर पर हुई है जो एक स्थानीय व्यक्ति है.
तेतसुया यामागामी (Tetsuya Yamagami) 41 साल का है और उसे एक पूर्व सैनिक माना जा रहा है ऐसा माना जा रहा है कि वो शिंजो आबे के पीछे खड़ा हुआ था. करीब 10 फीट की दूरी पर, जब उसने गोली चलाई.
मोदी के साथ आबे के अच्छे संबंध रहे. उनकी गुजरात और बनारस यात्रा काफी चर्चित रही. 25 जनवरी 2021 को भारत ने आबे को पद्म विभूषण से सम्मानित किया था.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ट्वीट भी सामने आया है. उन्होंने शिंजो आबे के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लिखा, 'मेरे प्यारे दोस्त शिंजो आबे पर हुए हमले से बहुत व्यथित हूं. हम सब की प्रार्थना उनके, उनके परिवार व जापान के लोगों के साथ हैं.'
हमले के बाद जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा का बयान सामने आया है. उन्होंने कहा, 'मैं इस हमले की निंदा करता हूं. इस हमले को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता. उन्होंने आगे कहा, 'हम वह सब कुछ करेंगे जो हम कर सकते हैं. डॉक्टर उन्हें बचाने के लिए मेहनत कर रहे हैं.

Tags: Japan, Shinzo Abe

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर