युगांडा में भारी बारिश से बाढ़ जैसे हालात, कम से कम 41 की मौत

इस आपदा के बाद कई लोग लापता हैं. हालांकि अभी तक सही संख्या का पता नहीं चल पाया है. राहत, आपदा तैयारी और शरणार्थी मामलों के युगांडा के मंत्री हिलरी ओनेक ने बताया, '41 लोगों की जान गई है लेकिन बचावकर्मी अब भी तलाश करने के काम में लगे हुए हैं.

भाषा
Updated: October 13, 2018, 10:06 AM IST
युगांडा में भारी बारिश से बाढ़ जैसे हालात, कम से कम 41 की मौत
प्रतीकात्मक तस्वीर
भाषा
Updated: October 13, 2018, 10:06 AM IST
पूर्वी युगांडा में भारी बारिश के बाद भूस्खलन के कारण एक नदी में आए उफान के कारण कम से कम 41 लोगों की मात हो गई है. आपदा अधिकारियों और जीवित बचे लोगों ने बताया कि पानी और नदी के साथ बह कर आई मिट्टी और पत्थर घरों में घुस गए हैं. पूर्वी बुडुडा जिला में एक दिन पहले आई आपदा में जीवित बचे लोगों और पीड़ितों को बचाने के लिए बचाव दल शुक्रवार देर रात तक काम में जुटा था.

इस आपदा के बाद कई लोग लापता हैं. हालांकि अभी तक सही संख्या का पता नहीं चल पाया है. राहत, आपदा तैयारी और शरणार्थी मामलों के युगांडा के मंत्री हिलरी ओनेक ने बताया, '41 लोगों की जान गई है लेकिन बचावकर्मी अब भी तलाश करने के काम में लगे हुए हैं. वे नदी तल क्षेत्र में अन्य शवों को ढूंढने की कोशिश कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें: उरनी में भूस्खलन ने बढ़ाई स्थानीय लोगों की परेशानी

ओनेक ने बताया कि अभी तक 38 शव बरामद किए गए हैं. अलग-अलग अंग भी मिले हैं जिससे लगता है कि ये तीन और लोगों के हो सकते हैं. प्राकृतिक आपदा और संघर्ष से उबरने में समुदायों की मदद करने वाले एक संगठन के निदेशक नथान तुमुहमये ने बताया कि चार से पांच गांवों के प्रभावित होने की आशंका है.

ये भी पढ़ें: ...जब पल भर में हजारों लोगों के लिए कब्रगाह बना ये शहर
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर