• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • नार्वे की सड़कों पर धनुष-तीर चलाकर 5 लोगों की हत्या, पुलिस बोली-आतंकी घटना से इनकार नहीं

नार्वे की सड़कों पर धनुष-तीर चलाकर 5 लोगों की हत्या, पुलिस बोली-आतंकी घटना से इनकार नहीं

घटना कोंग्सबर्ग की है, जो देश की राजधानी ओस्लो से 68 किलोमीटर की दूरी पर है.

घटना कोंग्सबर्ग की है, जो देश की राजधानी ओस्लो से 68 किलोमीटर की दूरी पर है.

कई स्थानों पर हुए हमले का मकसद अज्ञात है, लेकिन पुलिस ने आतंकी घटना होने से इनकार नहीं किया है. पुलिस ने संदिग्ध की पहचान कोंग्सबर्ग में रहने वाले एक 37 वर्षीय डेनिश नागरिक के रूप में की है.

  • Share this:

    ओस्लो. नार्वे के दक्षिण पूर्वी शहर कोंग्सबर्ग (Norwegian town Kongsberg) में बुधवार को धनुष और तीर (bow and arrows) से लैस एक व्यक्ति ने पांच लोगों की हत्या कर दी. वहीं, दो अन्य घायल हो गए. पुलिस ने बताया कि उन्होंने संदिग्ध हमलावर को गिरफ्तार कर लिया है. कोंग्सबर्ग (Kongsberg) के टाउन सेंटर में कई स्थानों पर हुए हमले का मकसद अज्ञात है, लेकिन पुलिस ने आतंकी घटना होने से इनकार नहीं किया है. पुलिस ने संदिग्ध की पहचान कोंग्सबर्ग में रहने वाले एक 37 वर्षीय डेनिश नागरिक के रूप में की है.

    पुलिस अधिकारी आयविंड आस (Police Chief Oeyving Aas) ने पांच लोगों के मारे जाने की पुष्टि की है. अन्य दो घायल आईसीयू में हैं. हमलावर ने कूप एक्स्ट्रा सुपरमार्केट में घुसकर लोगों पर हमला किया था. हमलावर ने सबसे पहले शहर के एक व्यस्त चौराहे पर मौजूद लोगों को निशाना बनाया. इसके बाद वो पास के इलाकों की तरफ भाग गया.

    हमले के बाद दीवार में घुसा तीर (AP)

    आरोपी का पीछा करने के लिए पुलिस ने हेलिकॉप्टर और बम स्क्वॉड को भी तैनात किया था. मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि हमलावर को घटनास्थल से 25 किलोमीटर दूर ड्रेमन इलाके से गिरफ्तार किया गया. इस दौरान उसने पुलिस पर भी हमले की कोशिश की. बाद में छापेमारी के दौरान उसे गिरफ्तार कर लिया गया.

    पुलिस अधिकारी आस ने बताया, “घायलों में से एक एक ऑफ-ड्यूटी पुलिस अधिकारी था, जो एक स्टोर में था. अभी तक मिली जानकारी के मुताबिक, अभी तक इस हमले में सिर्फ एक शख्स के शामिल होने की बात सामने आई है. इसमें आतंकी घटना होने की खुली संभावना हो सकती है.”

    घटना कोंग्सबर्ग की है, जो देश की राजधानी ओस्लो से 68 किलोमीटर की दूरी पर है. यह करीब 28000 लोगों की आबादी वाला इलाका है. आपको बता दें कि यह हमला नार्वे में 2011 के बाद हुआ पहला ऐसा कोई हमला है, जिसमें इतने ज्यादा लोगों की जान गई है. इससे पहले 2011 में दक्षिणपंथी चरमपंथी एंडर्स बेहरिंग ब्रेविक ने 77 लोगों को मार डाला था, जिनमें से अधिकांश एक यूथ कैंप में मौजूद युवा थे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज