होम /न्यूज /दुनिया /

न्यूजीलैंड की PM ने कबूला- अब कभी खत्म नहीं होगा कोराेना, ना ही इससे छुटकारा मिलेगा

न्यूजीलैंड की PM ने कबूला- अब कभी खत्म नहीं होगा कोराेना, ना ही इससे छुटकारा मिलेगा

न्यूजीलैंड ने कोरोना महामारी को लेकर एक बड़ा बयान दिया है. (AP)

न्यूजीलैंड ने कोरोना महामारी को लेकर एक बड़ा बयान दिया है. (AP)

जेसिंडा अर्डर्न ने ऑकलैंड में लॉकडाउन संबंधी प्रतिबंधों में ढील की घोषणा करते हुए कहा कि इस महामारी की शुरुआत में न्यूजीलैंड ने कड़ा लॉकडाउन लागू कर और अन्य कड़े कदम उठाकर वायरस को पूरी तरह काबू रखने की कोशिश की थी.

    वेलिंगटन. न्यूजीलैंड (new zealand) ने कोरोना महामारी (Covid-19) को लेकर एक बड़ा बयान दिया है. न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न (Prime Minister Jacinda Ardern) ने बाकी देशों के तरह स्वीकार किया है कि इस वैश्विक महामारी से पूरी तरह छुटकारा नहीं पाया जा सकता. पीएम जेसिंडा अर्डर्न ने ऑकलैंड में लॉकडाउन संबंधी प्रतिबंधों में ढील की घोषणा करते हुए कहा कि इस महामारी की शुरुआत में न्यूजीलैंड ने कड़ा लॉकडाउन लागू कर और अन्य कड़े कदम उठाकर वायरस को पूरी तरह काबू रखने की कोशिश की थी.

    उन्होंने आगे कहा कि अभी तक न्यूजीलैंड की यह रणनीति 50 लाख आबादी वाले देश के लिए कारगर साबित हुई थी. देश में संक्रमण से 27 लोगों की मौत हुई है.

    डेल्टा वैरिएंट के बाद बदले हालत
    पीएम जेसिंडा ने बताया कि जब अन्य देशों में मृतक संख्या बढ़ रही थी और लोगों का जीवन बाधित था, जब न्यूजीलैंड के लोग अपने कार्यस्थलों, स्कूलों और खेल स्टेडियम में सामान्य रूप से जा रहे थे. लेकिन अगस्त में ऑस्ट्रेलिया से आए एक व्यक्ति के डेल्टा वैरिएंट वायरस के संपर्क में आने के बाद पूरी तस्वीर बदल गई.

    उन्होंने कहा कि देश में इस मामले के सामने आने के बाद बेहद कड़ा प्रतिबंध लागू किया गया था, लेकिन यह संक्रमण को पूरी तरह से रोकने के लिए पर्याप्त नहीं था. देश में सोमवार को संक्रमण के 29 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,300 से अधिक हो गई. कुछ मामले ऑकलैंड के बाहर भी सामने आए हैं. जेसिंडा के मुताबिक, ऑकलैंड में सात सप्ताह के प्रतिबंधों के कारण संक्रमण को काबू में रखने में मदद मिली.

    उन्होंने कहा, “इस संक्रमण के बारे में एक बात स्पष्ट है कि लंबे समय तक कड़े प्रतिबंधों के बाद भी मामले समाप्त नहीं हुए, लेकिन कोई बात नहीं. पहले संक्रमण पूरी तरह रोकना महत्वपूर्ण था, क्योंकि तब हमारे पास टीके नहीं थे, लेकिन अब हमारे पास टीके हैं और अब हम अपनी रणनीति बदल सकते हैं.”

    Tags: COVID 19, New Zealand, World news, World news in hindi

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर