होम /न्यूज /दुनिया /

कोरोना से गंभीर रूप से बीमार हो गया था उत्तर कोरिया का तानाशााह किम जोंग उन, दुश्मन देश को बताया जिम्मेदार

कोरोना से गंभीर रूप से बीमार हो गया था उत्तर कोरिया का तानाशााह किम जोंग उन, दुश्मन देश को बताया जिम्मेदार

उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन. (Image: Britannica)

उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन. (Image: Britannica)

नार्थ कोरिया ( North Korea) के सर्वोच्‍च नेता किम जोंग उन (Kim Jong Un) कोविड -19 से संक्रमित हो गए थे और उन्‍हें तेज बुखार था. किम की बहन किम यो जोंग ने कहा कि दक्षिण कोरिया ने गलत प्रचार जारी रखा तो उसे मिटा दिया जाएगा.

हाइलाइट्स

उत्‍तर कोरिया के सर्वोच्‍च नेता किम की बहन का खुलासा
कोरोना से गंभीर रूप से बीमार हो गए थे किम
दक्षिण कोरिया पर लगाए आरोप, दी मिटाने की धमकी

प्योंगयांग. नार्थ कोरिया ( North Korea)  के सर्वोच्‍च नेता किम जोंग उन (Kim Jong Un) कोविड -19 से संक्रमित हो गए थे और उन्‍हें तेज बुखार था. किम की बहन किम यो जोंग ने दावा किया है कि भले ही वह तेज बुखार से गंभीर रूप से बीमार था, लेकिन देशवासियों की चिंता के कारण वह आराम नहीं कर रहा था. उसे लोगों की महामारी विरोधी युद्ध के अंत तक देखभाल करनी थी. किम यो जोंग ने दक्षिण कोरिया (south korea) को धमकी दी कि यदि उसने गलत प्रचार जारी रखा तो उसे मिटा दिया जाएगा. दक्षिण कोरिया पर आरोप लगाया कि वह किम जोंग उन प्रशासन को वायरस फैलाने का दोषी बता रहा है, जो गलत है.

किम यो जोंग ने कहा कि उत्‍तर कोरिया ने वायरस के खिलाफ अपनी लड़ाई में “चमकदार सफलता” घोषित की है. किम प्रशासन ने कोरोना प्रतिबंधों में ढील देने को कहा है. राज्य समाचार एजेंसी कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी (केसीएनए) ने यह जानकारी देते हुए बताया कि किम ने बुधवार को कहा था कि मई से हमने महामारी नियंत्रण के लिए प्रतिबंध लगाए थे और उसके कारण संक्रमण के केस तेजी से कम हुए. 29 जुलाई के बाद एक भी केस सामने नहीं आया. इस बीमारी पर कम समय में नियंत्रण और देश को वायरस मुक्‍त बनाना एक चमत्‍कार है, जिसे दुनिया के सार्वजनिक स्‍वास्‍थ्‍य के इतिहास में दर्ज किया जाएगा.

गुब्‍बारों में भरकर भेजे परचे जिससे फैला कोरोना 

किम की बहन ने आरोप लगाया कि उत्‍तर कोरिया में कोरोना वायरस दक्षिण कोरिया ने फैलाया है. उन्‍होंने कहा कि दक्षिण कोरिया द्वारा गुब्‍बारों में भरकर भेजे गए परचों से कोरोना संक्रमण फैला और इसके लिए कठोर कार्रवाई भी की जाएगी. उत्‍तर कोरिया ने मई में कोरोना वायरस के ओमिक्रॉन वेरिएंट केसों की पुष्टि की थी. उसने बताया था कि 2.6 करोड़ की आबादी में करीब 48 लाख लोगों को बुखार की शिकायत हुई है. इसके बाद बताया कि इस बीमारी से केवल 74 लोगों की मौत हुई है. इधर कुछ विशेषज्ञों ने कहा है कि उत्‍तर कोरिया महामारी के प्रकोप को कम दिखाने की कोशिश कर रहा है, जबकि देश में अस्‍पताल और गहन स्‍वास्‍थ्‍य चिकित्‍सा इकाइयों की कमी है. देश में वैक्‍सीन और अन्‍य उपचार उपलब्‍ध नहीं है.

Tags: Kim Jong Un, North Korea, South korea

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर