• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • धांधली के बीच चुनाव में फिर से जीती व्लादिमीर पुतिन की पार्टी, मिले 50 % वोट

धांधली के बीच चुनाव में फिर से जीती व्लादिमीर पुतिन की पार्टी, मिले 50 % वोट

2024 में अगले राष्ट्रपति चुनाव से पहले क्रेमलिन पर अब भी पुतिन का ही वर्चस्व रहेगा.  (AP)

2024 में अगले राष्ट्रपति चुनाव से पहले क्रेमलिन पर अब भी पुतिन का ही वर्चस्व रहेगा. (AP)

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    मॉस्को. रूस के चुनाव नतीजों (Russia General Election) में एक बार फिर राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) की यूनाइटेड रशिया (यूआर) पार्टी दो तिहाई सीटों पर जीत गई है. सोमवार देर रात वोटों की गिनती लगभग पूरी होने पर यूआर पार्टी को लगभग 50 फीसदी वोट मिले. ये 2016 से चार फीसदी कम वोट हैं. कम्युनिस्ट पार्टी को पिछली बार से 6 फीसदी अधिक लगभग 19 फीसदी वोट मिले थे.

    68 वर्षीय व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) 1999 से रूस (Russia General Election) के प्रधानमंत्री या राष्ट्रपति के रूप में सत्ता में हैं. 2024 में अगले राष्ट्रपति चुनाव से पहले क्रेमलिन पर अब भी उनका ही वर्चस्व रहेगा. संसद में आम तौर पर पुतिन की पहल का समर्थन करने वाली कम्युनिस्ट पार्टी के समर्थन में आठ फीसदी का इजाफा देखा गया है.

    संयुक्त राष्ट्र पहुंचा बांग्लादेश, भारत से समुद्री सीमा विवाद सुलझाने की लगाई गुहार

    वोटिंग में रिकॉर्ड धांधली के आरोप हैं. विपक्षी कम्युनिस्ट पार्टी को 20 फीसदी मत ही मिले हैं. सत्ताधारी पार्टी ने रविवार शाम को चुनाव खत्म होने से कुछ घंटे पहले ही जीत का दावा कर दिया था. दक्षिणपंथी एलडीपीआर पार्टी 7.56% वोटों के साथ तीसरे और मध्यम मार्गी फेयर रशिया पार्टी 7.38% वोटों के साथ चौथे स्थान पर रही. कोरोना के कारण इस बार वोटर्स को ई-वोटिंग का विकल्प भी दिया गया था.

    चुनाव में लगे धांधली के आरोप
    इस चुनाव में पुतिन के प्रमुख और मुखर आलोचकों को हिस्सा लेने से रोक दिया गया था. आलोचकों ने चुनाव में जबरन मतदान कराने और मतपत्र से छेड़खानी और फर्जीवाड़े के आरोप लगाए, लेकिन चुनाव आयोग ने इन दावों को खारिज कर दिया. इस चुनाव में सत्ताधारी पार्टी के 20 फीसदी प्रत्याशियों को हार का सामना करना पड़ा.

    पोलिंग स्टेशनों में बोगस वोटिंग के वीडियो वायरल
    रूसी चुनाव के वायरल वीडियो में पोलिंग स्टेशनों में पुतिन समर्थकों को बैलेट बॉक्स में बोगस वोट डालते हुए दिखाया गया है. नवलनी के समर्थकों का आरोप है कि चुनाव पर्यवेक्षकों की संख्या कम कर दी गई, जबकि वोटिंग को तीन दिन की लंबी अवधि तक खींचा गया.

    इस वजह से अमेरिका-फ्रांस के बीच बढ़ा मतभेद, रक्षा मंत्रियों की बैठक रद्द

    भारत के बराबर याकुटिया में कम्युनिस्ट उम्मीदवार
    रूस के सुदूर पूर्वी प्रांत याकुटिया में इस बार कम्युनिस्ट पार्टी ने जीत हासिल की है. कम्युनिस्ट पार्टी के पेत्रे एमुसोव ने इस सीट को फेयर रशिया पार्टी से हथियाया है. याकुटिया दुनिया का सबसे बड़ा संसदीय क्षेत्र है. इसका क्षेत्रफल लगभग भारत के बराबर है. (एजेंसी इनपुट के साथ)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज