होम /न्यूज /दुनिया /रूस की बमबारी से कीव के 80 फीसदी घरों में पानी सप्लाई बंद, साढ़े 3 लाख से ज्यादा घरों में ब्लैकआउट

रूस की बमबारी से कीव के 80 फीसदी घरों में पानी सप्लाई बंद, साढ़े 3 लाख से ज्यादा घरों में ब्लैकआउट

सोमवार को यूक्रेन की राजधानी कीव में रूस ने जमकर बमबारी की.(News18)

सोमवार को यूक्रेन की राजधानी कीव में रूस ने जमकर बमबारी की.(News18)

रूसी सेना ने एक बार फिर यूक्रेन पर हमला तेज कर दिया है. सोमवार को रूस ने यूक्रेन की राजधानी कीव में जमकर बम बरसाए. धमाक ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

यूक्रेनी सेना ने कहा कि सोमवार तड़के यूक्रेन पर 50 से अधिक क्रूज मिसाइलें दागी गईं.
कीव सहित प्रमुख शहरों पर हमले के जरिये बुनियादी ढांचे को प्रभावित करने की कोशिश
कीव में 80 प्रतिशत लोग पानी के बिना और 350,000 घरों में बिजली नहीं है.

कीव. रूसी सेना ने एक बार फिर यूक्रेन पर हमला तेज कर दिया है. सोमवार को रूस ने यूक्रेन की राजधानी कीव में जमकर बम बरसाए. धमाके से पूरा इलाका एक बार फिर दहल उठा. चारों तरफ धुएं का गुबार छाया हुआ है. रूस द्वारा सिलसिलेवार हमले के बाद यूक्रेन में अब बिजली के साथ-साथ पानी की आपूर्ति भी कई इलाकों में ठप हो गई है. कीव के मेयर विटाली क्लिट्स्को ने कहा कि उनके शहर के 80 प्रतिशत हिस्से में पानी की आपूर्ति ठप हो गई है. इसके अलावा उन्होंने बताया कि रूसी हमले में करीब 350,000 घरों में मूलभूत सुविधाओं की आपूर्ति बंद हो गई है.

उत्तर में खार्किव, मध्य यूक्रेन में निप्रो और चर्कासी, और दक्षिणी शहर ज़ापोरिज्जिया में भी बिजली संकट शुरू हो गया है. कीव के कमांडरों ने कहा कि यूक्रेन में रूसी रणनीतिक हमलावरों द्वारा 50 से अधिक क्रूज मिसाइलें दागी गईं, जिनमें से 44 को मार गिराया गया. रूस द्वारा यूक्रेन पर क्रीमिया प्रायद्वीप तट पर रूसी काला सागर बेड़े पर ड्रोन हमला करने का आरोप लगाने के दो दिन बाद ये हमले किये गए.

कीव क्षेत्र के गर्वनर ओलेक्सी कुलेबा ने यह भी कहा कि आज सुबह के हमले में एक व्यक्ति घायल हो गया और कई मकान क्षतिग्रस्त हो गए. अधिकारियों के अनुसार, खार्किव में, दो हमलों ने महत्वपूर्ण बुनियादी सुविधाओं को प्रभावित किया और मेट्रो का संचालन बंद हो गया. अधिकारियों ने ज़ापोरिज्जिया शहर में हड़तालों के परिणामस्वरूप संभावित बिजली कटौती के बारे में भी चेतावनी दी है.

कीव के दक्षिण-पूर्व में चर्कासी क्षेत्र में महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचे पर भी हमला किया गया और यूक्रेन के अन्य क्षेत्रों में विस्फोटों की सूचना मिली है. इसके अलावा अधिकारियों ने बताया कि हमले के चलते यूक्रेन में रेल व्यवस्था भी प्रभावित हुई है. रूस बिजली और पानी की आपूर्ति सहित नागरिक बुनियादी ढांचे को हमले में टारगेट कर रहा है.

बता दें कि युद्ध के मैदान में असफलताओं का सामना करते हुए, मास्को युद्ध जारी रखने की इच्छा को तोड़ने के लिए नागरिकों को निशाना बना रहा है. इस तरह के हमले अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत युद्ध अपराध हैं.

Tags: Russia ukraine war

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें