Home /News /world /

Russia-Ukraine War: खारकीव से भारतीयों को सुरक्षित निकालने के लिए 6 घंटे तक युद्ध रोकने को तैयार हुआ रूस

Russia-Ukraine War: खारकीव से भारतीयों को सुरक्षित निकालने के लिए 6 घंटे तक युद्ध रोकने को तैयार हुआ रूस

यूक्रेन में ऑपरेशन गंगा के तहत सरकार भारतीयों को वापस ला रही है (AP)

यूक्रेन में ऑपरेशन गंगा के तहत सरकार भारतीयों को वापस ला रही है (AP)

Russia-Ukraine War Indian Nationals Evacuation: भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार रात को रूस के राष्ट्रफति व्लादिमीर पुतिन से बात की थी. इस दौरान पीएम मोदी ने यूक्रेन में फंसे भारतीयों को सुरक्षित निकालने का मुद्दा उठाया था. रूस के राष्ट्रपति ने पीएम को बताया था कि रूस हर संभव मदद करने को तैयार है. खारकीव में यूक्रेनी सेना भारतीय स्टूडेंट्स को मानव ढाल के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

कीव. यूक्रेन और रूस के बीच जंग (Russia-Ukraine War)का गुरुवार को आठवां दिन है. इस बीच भारत सरकार यूक्रेन में फंसे भारतीयों को सुरक्षित वापस लाने के लिए पुरजोर कोशिश कर रही है. इसके लिए वायुसेना की भी मदद ली जा रही है. इस बीच भारत सरकार (Russia-Ukraine War Indian Nationals Evacuation:) ने रूस के साथ एक अहम समझौता किया है. खारकीव में फंसे भारतीयों को निकालने के लिए रूस 6 घंटे तक युद्ध रोकने को तैयार हो गया है. यह गैप वहां फंसे भारतीय लोगों को सुरक्षित खारकीव से निकालकर यूक्रेन के आसपास के देशों के बॉर्डर तक पहुंचाने के लिए लिया गया है.

Russia-Ukraine War: यूक्रेन से युद्ध में 498 रूसी सैनिकों ने गंवाई जान, करीब 1600 घायल; मॉस्को ने पहली बार जारी किए आंकड़े

यूक्रेन के शहर खारकीव में अब भी हजारों स्टूडेंट्स के फंसे होने की सूचना है. बताया गया था कि भारतीयों को वहां से निकलने नहीं दिया जा रहा है. भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार रात को रूस के राष्ट्रफति व्लादिमीर पुतिन से बात की थी. इस दौरान पीएम मोदी ने यूक्रेन में फंसे भारतीयों को सुरक्षित निकालने का मुद्दा उठाया था. रूस के राष्ट्रपति ने पीएम को बताया था कि रूस हर संभव मदद करने को तैयार है. खारकीव में यूक्रेनी सेना भारतीय स्टूडेंट्स को मानव ढाल के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं.

पुतिन ने दिया था मदद का भरोसा
व्लादिमीर पुतिन ने पीएम मोदी से बातचीत के दौरान यह भरोसा दिलाया था कि इंडियन स्टूडेंट्स को वॉर जोन से सुरक्षित निकालकर उन्हें भारत भेजने के लिए सभी जरूरी निर्देश जारी किए गए हैं. रूसी सेना इस दिशा में हरसंभव कोशिश करेगी. उन्होंने भारतीय छात्रों के फौरन रेस्क्यू के लिए रूसी सेना द्वारा खारकीव से रूस तक एक सुरक्षित कॉरिडोर बनाने की भी बात कही थी. इसके अगले दिन ही रूस 6 घंटे तक युद्ध रोकने के लिए तैयार हो गया है.

Russia-Ukraine War: यूक्रेन में दिन-ब-दिन बिगड़ते भारतीय छात्रों के हाल, ट्रेन की 1 सीट के लिए 15 हजार रुपये में बेचना पड़ा iPad

भारतीय दूतावास ने भी बुधवार को छात्रों सहित अपने सभी नागरिकों से कहा था कि अपनी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए जितनी जल्दी हो सके खारकीव छोड़ दें. दूतावास ने एडवाइजरी में कहा था कि भारतीय नागरिक खारकीव छोड़कर पेसोचिन, बाबाये और बेजलीयुदोव्का पहुंचे, जो करीब 16 किलोमीटर के दायरे में है.

इस बीच ऑपरेशन गंगा के तहत 3,726 भारतीयों को आज बुखारेस्ट से 8 फ्लाइट, सुसेवा से 2 फ्लाइट, कोसिसे से 1 फ्लाइट, बुडापेस्ट से 5 फ्लाइट और रेज़ज़ो से 3 फ्लाइट से भारत वापस लाया जाएगा.

Tags: Narendra modi, Russia, Russia ukraine war, Vladimir Putin

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर