Suez Canal Blocked: स्वेज नहर में जाम से दुनिया में हो सकती है टॉयलेट पेपर की कमी, जानें कैसे...

कॉन्सेप्ट इमेज.

स्‍वेज नहर (Suez Canal) में व‍िशाल मालवाहक जहाज एवर ग‍िवेन के फंस जाने से दुनिया में टॉइलट पेपर (Toilet Paper) के खत्‍म होने का संकट मंडराने लगा है. समुद्र में लगे भीषण जाम की वजह से 300 से ज्‍यादा जहाज फंसे हुए हैं.

  • Share this:
    काहिरा. मिस्र के स्‍वेज नहर (Suez Canal) में विशाल कंटेनर श‍िप एवर गिवेन के फंसने से दुनियाभर के 300 से ज्‍यादा मालवाहक जहाज और तेल कंटेनर फंस गए हैं. इस भीषण ट्रैफिक जाम का असर कुछ ऐसा दिखाई देने लगा है कि टॉइलट पेपर (Toilet Paper) बनाने वाली सबसे बड़ी कंपनी सुजानो एसए ने चेतावनी दी है कि जहाज के फंसने से वैश्विक स्‍तर पर टॉइलट पेपर का संकट पैदा हो सकता है. सुजानो एसए ने कहा कि टॉइलट पेपर को ले जाने जहाजों और शिपिंग कंटेनर की भारी कमी हो गई है. ब्राजील की इस कंपनी के सीईओ वॉल्‍टर स्‍चल्‍का ने एक साक्षात्‍कार में कहा कि जहाजों की कमी से कंपनी के सामानों को ले जाने में देरी हो रही है. उन्‍होंने कहा कि वह कुछ समय से चिंतित हैं क्‍योंकि हम मार्च में उतना निर्यात नहीं कर सकेंगे जितना कि उम्‍मीद थी. अब हमें अप्रैल में यह भेजना होगा.

    यही नहीं कार्गो कंटेनर बनाने वाली कंपनियों ने डिमांड में कमी को देखते हुए अपने उत्‍पादन को घटा दिया था. उन्‍होंने कहा कि स्‍वेज नहर संकट की वजह से यह संकट अब और ज्यादा गहरा गया है. करीब 400 मीटर लंबा यह कंटेनरशिप स्‍वेज नहर में फंस गया है. इसकी वजह से समुद्र में भीषण ट्रैफिक जाम लग गया है. इस जहाज को निकालने के लिए बचाव दल दिन-रात प्रयास कर रहा है.

    news18
    फाइल फोटो.


    ये भी पढ़ें: वेनेजुएला: Corona को लेकर गलत सूचना देने पर राष्ट्रपति मादुरो का फेसबुक पेज ब्लॉक

    मिस्र के स्‍वेज नहर प्राधिकरण के मुख्‍य अधिकारी ओसामा रबिए ने कहा कि जहाज को निकालने के प्रयास किए जा रहे हैं. हालांकि यह संकट कब खत्‍म होगा, वह इसे बताने की स्थिति में नहीं हैं. उन्‍होंने कहा कि समुद्री लहरें और तेज हवाओं की वजह से जहाज को निकालने में बाधा आ रही है. ओसामा ने बताया कि जहाज के आसपास से रेत को निकालने के प्रयास किए जा रहे हैं ताकि बिना सामान को उतारे ही इस जहाज को निकाला जा सके.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.