मोजाम्बिक में तूफान का कहर, एक हजार से ज्यादा लोगों के मरने की आशंका

मोजाम्बिक में तूफान का कहर, एक हजार से ज्यादा लोगों के मरने की आशंका
प्रतीकात्मक तस्वीरें

मोजाम्बिक के राष्ट्रपति फिलिप न्यूसी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में कहा, 'आज सुबह जब हमने स्थिति का जायजा लेने के लिए उड़ान भरी तो संकेत मिला कि मरने वालों की संख्या एक हजार से ज्यादा हो सकती है.'

  • Share this:
मोजाम्बिक में पिछले सप्ताह आए तूफान में एक हजार से ज्यादा लोगों के मरने की आशंका है. वहीं, पड़ोसी जिम्बाब्वे में तूफान के चलते दर्जनों लोगों की मौत हुई है और 200 से अधिक लोग लापता हैं. गुरुवार को आए तूफान की मार सबसे पहले मध्य मोजाम्बिक के बेइरा शहर पर पड़ी जिससे वहां अचानक बाढ़ आ गई और सड़कें तथा मकान बह गए. इसके बाद तूफान पड़ोसी जिम्बाब्वे में प्रवेश कर गया.

मोजाम्बिक के राष्ट्रपति फिलिप न्यूसी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में कहा, 'इस समय आधिकारिक रूप से हमने 84 लोगों की मौत दर्ज की है, लेकिन आज सुबह जब हमने स्थिति का जायजा लेने के लिए उड़ान भरी तो संकेत मिला कि मरने वालों की संख्या एक हजार से ज्यादा हो सकती है.'

यह भी पढ़ें : हिंदू और मुस्लिम महिलाओं ने एक-दूसरे के पतियों को डोनेट की किडनी



उन्होंने कहा कि यह वास्तव में एक बड़ी आपदा है. एक लाख से अधिक लोग खतरे में हैं. राष्ट्रपति ने कहा कि अनेक लोगों ने पेड़ों पर शरण ले रखी है और वे मदद की प्रतीक्षा कर रहे हैं. इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ रेड क्रॉस एंड रेड क्रीसेंट सोसाइटीज ने कहा, 'बेइरा में हुआ नुकसान भयावह है.' इसने एक बयान में कहा, 'पांच लाख 30 हजार की आबादी वाले शहर का 90 प्रतिशत हिस्सा नष्ट हो गया है.'
ये भी पढ़ें: देशभक्ति के मामले में भारत से आगे हैं पाकिस्तान के लोग, ये छोटा सा देश है सबसे आगे

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading