होम /न्यूज /दुनिया /यूक्रेन ने बुलाई सुरक्षा प्रमुखों की आपात बैठक, लिए जा सकते हैं अहम फैसले

यूक्रेन ने बुलाई सुरक्षा प्रमुखों की आपात बैठक, लिए जा सकते हैं अहम फैसले

यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की शुक्रवार को एक आपात बैठक बुलाई है. (News18)

यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की शुक्रवार को एक आपात बैठक बुलाई है. (News18)

यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की शुक्रवार को एक आपातकालीन शीर्ष-स्तरीय बैठक करेंगे, जिसमें चार यूक्रेनी क्षेत्र ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की शुक्रवार को एक आपातकालीन बैठक बुलाई है.
रूसी राष्ट्रपति पुतिन शुक्रवार को यूक्रेन के चार इलाकों को रूस में शामिल करने वाली संधि पर हस्ताक्षर करेंगे.
रूस ने यूक्रेन के इन चार क्षेत्रों में ‘जनमत संग्रह’ कराया था.

कीव. यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की शुक्रवार को एक आपातकालीन शीर्ष-स्तरीय बैठक करेंगे, जिसमें चार यूक्रेनी क्षेत्रों को जोड़ने की रूसी योजनाओं के मद्देनजर ‘मौलिक निर्णय’ लिए जाएंगे. एक अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया. क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने कहा कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन क्रेमलिन में शुक्रवार को आयोजित होने वाले एक कार्यक्रम में शामिल होंगे, जिसमें उन क्षेत्रों को आधिकारिक तौर पर रूस में शामिल किया जाएगा. जहां रूस ने कीव और पश्चिम में रूस के कब्जे वाले यूक्रेनी क्षेत्र पर मंचित जनमत संग्रह का आयोजन किया था. ज़ेलेंस्की के कार्यालय ने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा और रक्षा परिषद की शुक्रवार को बैठक होगी.

परिषद के सचिव ओलेक्सी डेनिलोव ने कहा, ‘मुझे विश्वास है कि हमारे देश के लिए महत्वपूर्ण और मौलिक निर्णय बैठक में लिए जाएंगे.’ यूक्रेन के 1+1 टेलीविजन स्टेशन से बात करने वाले डैनिलोव ने बैठक के बारे में ज्यादा ब्योरा नहीं दिया. बता दें कि जेलेंस्की ने बार-बार कहा है कि तथाकथित जनमत संग्रह अवैध थे और एक मजबूत यूक्रेनी प्रतिक्रिया की चेतावनी दी. राष्ट्रीय सुरक्षा और रक्षा परिषद में सशस्त्र बलों के कमांडर-इन-चीफ, रक्षा, विदेश और प्रधान मंत्री और यूक्रेनी सुरक्षा सेवा के प्रमुख शामिल हैं. इसे राष्ट्रीय सुरक्षा नीति के विकास और समन्वय पर राष्ट्रपति के साथ काम करने का काम सौंपा गया है.

बता दें कि रूस ने बृहस्पतिवार को पुष्टि की कि वह यूक्रेन के कुछ हिस्सों को औपचारिक रूप से अपने अधिकार क्षेत्र में ले लेगा. रूस ने यूक्रेन के इन क्षेत्रों में ‘‘जनमत संग्रह’’ कराया था, जिसे यूक्रेनी सरकार और पश्चिमी देशों ने अवैध बताया है. पेसकोव ने बृहस्पतिवार को संवाददाताओं से कहा कि चार क्षेत्रों के प्रमुख क्रेमलिन के सेंट जॉर्ज हॉल में एक कार्यक्रम के दौरान रूस में शामिल होने के लिए संधियों पर हस्ताक्षर करेंगे. यूक्रेन में रूसी नियंत्रण वाले क्षेत्रों में मंगलवार को हुए जनमत संग्रह के बाद मॉस्को ने दावा किया था कि निवासियों ने अपने क्षेत्रों के औपचारिक रूप से रूस का हिस्सा बनने के लिए भारी समर्थन किया था.

Tags: Russia ukraine war

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें