होम /न्यूज /दुनिया /रूस की बमबारी से बर्बाद हो चुका है यूक्रेन, जेलेंस्की को एक ट्रिलियन डॉलर की दरकार

रूस की बमबारी से बर्बाद हो चुका है यूक्रेन, जेलेंस्की को एक ट्रिलियन डॉलर की दरकार

यूक्रेन एक 'संरक्षण' कार्यक्रम शुरू करने की योजना बना रहा है. (Image: Reuters)

यूक्रेन एक 'संरक्षण' कार्यक्रम शुरू करने की योजना बना रहा है. (Image: Reuters)

Ukraine Russia War: 25 अक्टूबर को यूक्रेनी राष्ट्रपति ने अपने देश के पुनर्निर्माण के लिए वित्त प्रयासों के प्रति अनिच्छ ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

यूक्रेन को फिर से खड़ा करने के लिए कम से कम एक ट्रिलियन डॉलर की जरुरत
पश्चिमी देशों को कुछ शहरों पर 'पेट्रोनाज' देकर इस प्रयास में शामिल करने की योजना
फ्रांस, यूनाइटेड किंगडम, नीदरलैंड, जर्मनी समेत कई देशों ने दिखाई रुचि

कीव. रूस की बमबारी से बर्बाद हुए यूक्रेन को फिर से खड़ा करने के लिए कम से कम एक ट्रिलियन डॉलर की जरुरत पड़ने वाली है. यूक्रेनी राष्ट्रपति व्लादिमीर ज़ेलेंस्की ने कहा कि युद्ध के कारण देश के पुनर्निर्माण के लिए 1 ट्रिलियन डॉलर से अधिक की आवश्यकता होगी. उन्होंने कहा कि कीव पश्चिमी देशों को कुछ क्षेत्रों और शहरों पर ‘पेट्रोनाज’ ( देकर इस प्रयास में शामिल करने की योजना बना रहा है. ज़ेलेंस्की ने मंगलवार को 2030 एक्सपो की मेजबानी के लिए ओडेसा की बोली पेश करते हुए कहा कि वह पहले से ही यूक्रेन के पुनर्निर्माण की प्रक्रिया में दर्जनों भागीदार देशों को शामिल कर रहे हैं. पुनर्निर्माण के लिए एक ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर से अधिक की जरूरत है.

आपको बता दें कि यूक्रेन एक ‘संरक्षण’ कार्यक्रम शुरू करने की योजना बना रहा था, जिससे राष्ट्रीय सरकारें और कंपनियां एक निश्चित क्षेत्र, शहर, आर्थिक क्षेत्र या उद्यम के पुनर्निर्माण में संलग्न हो सकें. वहीं राष्ट्रपति ज़ेलेंस्की ने दावा किया कि फ्रांस, यूनाइटेड किंगडम, नीदरलैंड, जर्मनी, डेनमार्क, फिनलैंड, इटली, तुर्की, स्विट्जरलैंड, संयुक्त राज्य अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया सहित कुछ देशों ने पहले ही अपनी रुचि का संकेत दे दिया है. इस बीच, 25 अक्टूबर को यूक्रेनी राष्ट्रपति ने अपने देश के पुनर्निर्माण के लिए वित्त प्रयासों के प्रति अनिच्छा के लिए अन्य देशों पर प्रहार किया था कि कीव सरकार को अभी तक इस उद्देश्य के लिए “एक पैसा” नहीं मिला है.

रूस को EU संसद ने बताया आतंकी राज्य
यूरोपीय संघ की संसद ने पिछले सप्ताह एक ऐतिहासिक कदम उठाते हुए रूस को ‘आतंकवाद को प्रायोजित करने वाला राज्य’ घोषित कर दिया. यूरोपीय सांसदों ने रूस को आतंकवाद का प्रायोजक देश बताने वाले प्रस्ताव के पक्ष में मतदान किया. हालांकि, ईयू का यह कदम काफी हद तक प्रतीकात्मक है, क्योंकि यूरोपीय संघ के पास इसका समर्थन करने के लिए कोई कानूनी ढांचा नहीं है. संघ ने पहले ही यूक्रेन पर अपने आक्रमण को लेकर रूस पर अभूतपूर्व प्रतिबंध लगाए हैं.

Tags: Britain, Russia ukraine war, Ukraine, USA

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें